पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Punjab
  • Navjot Singh Sidhu Road Rage Patiala Surrender| Sidhu's Sister Suman Toor Statement On Supreme Court Decision

सिद्धू को बहन सुमन तूर का सपोर्ट:बोलीं- सजा से दुखी; चुनाव के वक्त कहा था- शैरी क्रुएल, मां-बहन को घर से निकाला

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुमन तूर और नवजोत सिद्धू। - Money Bhaskar
सुमन तूर और नवजोत सिद्धू।

पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान नवजोत सिद्धू को एक साल कैद की सजा के बाद बड़ी बहन सुमन तूर का समर्थन मिला है। अमेरिका में रहने वाली तूर ने कहा कि आज बहुत दुख भरा दिन है। काश में वहां होती। सिद्धू को गले लगाती। उसका माथा चूमती। उसे सपोर्ट देती। अफसोस, यह नहीं हो सकता। सुमन तूर ने पंजाब चुनाव के वक्त सिद्धू पर मांग और बहनों के साथ धक्केशाही के आरोप लगाए थे। तूर ने कहा था कि शैरी बहुत क्रुएल है। उसने मां और बड़ी बहन को घर से निकाला।

अब कहा - शैरी मेरे बेटे जैसा
सुमन तूर ने कहा कि आज का दिन मेरे और परिवार के लिए दुख भरा दिन है। शैरी (नवजोत सिद्धू) मेरे लिए बेटे जैसा है। मुझे भगवान पर पूरा भरोसा है। वह हमें दुखदायी वक्त से निकलने के लिए ताकत देंगे। मेरी गुजारिश है कि मुझे और परिवार को समय और जगह दो, ताकि इस दुखदायी समय से निकल सकें।

सुमन तूर ने कहा था- सिद्धू की वजह से मां लावारिस की तरह मरी
सुमन तूर ने आरोप लगाया था कि सिद्धू ने पिता भगवंत सिद्धू की मौत के बाद मां निर्मल भगवंत और बड़ी बहन को घर से निकाल दिया। फिर मीडिया में बयान देकर झूठ बोला कि उसके माता-पिता न्यायिक तौर पर अलग हुए। सुमन ने कहा कि उनकी मां ने अपनी छवि बचाने के लिए दिल्ली के चक्कर काटे और अंत में दिल्ली रेलवे स्टेशन पर लावारिस की तरह उनकी मौत हुई। सुमन ने कहा था कि सिद्धू ने यह सब प्रॉपर्टी के लिए किया। वह इसकी शिकायत लेकर महिला आयोग तक पहुंच गई थी।

सिद्धू ने कहा था - राजनीति के लिए मां को कब्र से ले आए
इसके जवाब में नवजोत सिद्धू ने कहा था कि राजनीतिक के लिए मेरी मां को कब्र से निकाल कर ले आए। थू है... नवजोत सिंह सिद्धू कभी इतना नहीं गिरा और न ही सिद्धू अपनी मां को इस कीचड़ में गिराएगा। कीचड़ को धोने की अपेक्षा से नवजोत सिद्धू कीचड़ से बहुत दूर रहा है और ये भी कीचड़ ही है। अब सुमन के आरोपों का जवाब देने के लिए 40 साल पहले गुजर चुकी मां को दोबारा नहीं ला सकते। लोग ऐसी घटिया राजनीति को किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे।