पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पावरकॉम कर्मियों ने दिया धरना:चार बिजली कर्मचारियों को निलंबित करने करने के खिलाफ गुस्सा, बहाली की मांग

मुक्तसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पावरकॉम कार्यालय में धरना देते कर्मचारी। - Money Bhaskar
पावरकॉम कार्यालय में धरना देते कर्मचारी।

पंजाब सरकार द्वारा सस्पेंड किए गए 4 बिजली कर्मियों को बहाल करने की मांग के तहत सोमवार को पावरकॉम कर्मचारियों नेे कोटकपूरा रोड स्थित पावरकॉम दफ्तर में धरना देकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वक्ताओं ने कहा कि भगवंत मान सरकार बिजली बोर्ड के कर्मचारियों से धक्का कर रही है। पहले ही कर्मचारी कम स्टाफ होने सेे अपनी ड्यूटी निर्विघ्न बिजली देने की कोशिश कर रहे हैं, परंतु उच्चाधिकारियों द्वारा एक तरफा कार्रवाई करते हुए हमारे मुलाजिमों को सस्पेंड किया है, जो सरासर गलत है।

मुक्तसर के सभी संगठन एकत्रित होकर धरने पर बैठे हैं। सरकार इन सस्पेंड किए कर्मचारियों को बहाल करें नहीं तो आने वाले समय में अनिश्चितकाल समय के लिए हड़ताल जारी करने का प्रोग्राम तय किया जाएगा। पीएसपीसीएल कर्मचारियों ने सरकार को तीखे संघर्ष की चेतावनी दी है। इस मौके पर शमशेर सिंह, गुरमीत सिंह, शमिन्द्र सिंह, गुरदीप सिंह, रेशम सिंह, मक्खन लाल, बरजिंदर शर्मा, बसंत सिंह, दिलबाग सिंह, विवेक बांसल, सतीश बांसल, मनदीप सिंह सहित अन्य उपस्थित थे।

शिकायतें मिलने के बाद किया सस्पैंड: बिजली मंत्री हरभजन सिंह भ्रष्टाचार के विरुद्ध मुख्यमंत्री भगवंत मान की अध्यक्षता वाली पंजाब सरकार की जीरो सहनशीलता नीति के तहत पंजाब के बिजली मंत्री हरभजन सिंह एटीओ ने बताया कि पावर कॉरपोरेशन लि. के गुरतेज सिंह एएई, मेहर चंद कर्लक, संगीत सहोता कर्क व मुक्तसर के बरीवाला डिस्ट्रीब्यूशन सब डिवीजन के सभी अधिकारियों को खेतीबाड़ी उपभोक्ताओं के लिए वालंटरी डिस्कलोजर योजना की घोर उल्लंघना करने के चलते सस्पेंड किया गया है।

पीएसपीसीएल के हरभजन सिंह ने बताया कि मुक्तसर की बरीवाला डिस्ट्रीब्यूशन सब डिवीजन के कामकाज में घोर उल्लंघना संबंधी व्हाट्सअप पर शिकायत प्राप्त हुई थी। जांच दौरान पीएसपीसीएल इनफॉरमेंट विंग बठिंडा ने बताया कि मुक्तसर की बरीवाला डिस्ट्रीब्यूशन सब डिवीजन के अधिकारी खेतीबाड़ी ट्यूबवैल उपभोक्ताओं को प्राइवेट ठेकेदारों से खेती ट्यूबवेल कनेक्शन के लोड बढ़ाने के लिए टेस्ट रिपोर्ट देने के लिए मजबूर व परेशान करते हैं, जोकि खेतीबाड़ी ट्यूबवेल उपभोक्ताओं के लिए शुरू की वालंटरी डिस्कलोजर स्कीम की उल्लंघना है।

खबरें और भी हैं...