पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नदी में डूबे तीसरे बच्चे का शव भी मिला:लुधियाना में सतलुज में बहे थे 12-13 साल के 3 बच्चे, तीनों का अंतिम संस्कार किया

लुधियानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाएं से आकाशदीप, चरनजीत सिंह और सुखचैन। - Money Bhaskar
बाएं से आकाशदीप, चरनजीत सिंह और सुखचैन।

पंजाब के लुधियाना जिला के जगरांव कस्बा के गांव नहिंगा दा डेरा खुरशैदपुरा के पास से गुजर रही सतलुज नदी में नहाने गए 12-13 साल के 3 बच्चे डूब गए हैं। 2 बच्चों के शव गुरुवार रात को मिल गए थे, जबकि तीसरे बच्चे का शव शुक्रवार को गोताखोरों को मिला।

गुरुवार दोपहर के समय नहाने गए बच्चे जब देर शाम तक घर वापस न आए तो परिजनों ने उनकी तलाश शुरू की। शाम को करीब पौने 7 बजे परिजनों ने पुलिस के सूचना दी। परिजनों ने पुलिस को बताया कि उनके बच्चे दोपहर से लापता हैं।

इसके बाद पुलिस ने सतलुज नदी में सर्च ऑपरेशन चलाया। गोताखोरों को नदी में उतारा गया। गोताखोरों ने दो बच्चों के शवों को नदी से निकाल लिया, लेकिन देर रात तक तीसरे बच्चे आकाशदीप के शव का कहीं कुछ पता नहीं चल सका था। शुक्रवार को आकाशदीप का शव मिला।

नहर में डूबे बच्चों का हुआ अंतिम संस्कार।
नहर में डूबे बच्चों का हुआ अंतिम संस्कार।

देर शाम हुआ बच्चों का संस्कार

थाना सिधवां बेट के SHO सुरजीत सिंह ने बताया कि तीनों बच्चे गुरुवार दोपहर 1 बजे के करीब सतलुज नदी में नहाने गए थे। पानी का बहाव तेज था, जिसमें तीनों बह गए। इस घटना की जानकारी परिवार को देर शाम मिली, जब बच्चे घर लौट कर नहीं आए। उसके बाद पुलिस बच्चों की तलाश में जुटी। तीनों बच्चों के शव पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिवार को सौंप दिए। परिवार ने बच्चों का अंतिम संस्कार देर शाम कर दिया।