पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

साइबर हनीट्रैप:लड़कियां भेजती फ्रेंड रिक्वेस्ट, फिर करती हैं न्यूड वीडियोकाॅल, क्लिप बना कर रहीं ब्लैकमेल

लुधियाना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अगर आप ऑनलाइन सोशल मीडिया अकाउंट्स चलाने और दोस्त बनाने के शौकीन हैं, तो जरा संभल जाएं। क्योंकि कोई भी आपको वीडियो काॅल कर न्यूड के साथ जोड़ सकता है। कुछ ऐसे ही मामले पुलिस के पास पहुंच रहे हैं। लेकिन पीड़ित शिकायत करने से कतरा रहे हैं। क्योंकि उन्हें अपनी बदनामी का डर है। कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्होंने पुलिस को कंप्लेंट की है।

आकंड़ों की बात करें तो पिछले चार महीनों में पुलिस के पास 80 के करीब शिकायतें की गई हैं। जिसमें कई मामलों में पड़ताल चल रही है। लेकिन एफआईआर किसी ने नहीं करवाई। इनवेस्टिगेशन में पता चला है कि उक्त फोन नागालैंड, झारखंड, कर्नाटक और अन्य राज्यों से आ रहे हैं। जिसके बारे में जिन खातों में पैसे ट्रांसफर किए गए, उनकी पड़ताल के बाद क्लीयर हुआ। लेकिन इनमें से किसी आरोपी तक पुलिस पहुंच नहीं पाई, क्योंकि लोग एफआईआर नहीं करवा रहे। जिसकी वजह से केस ट्रेस नहीं हो पाते।

सोशल मीडिया पर बनाते फर्जी अकाउंट, लड़कियों की लगाते तस्वीर
साइबर ठग सोशल मीडिया पर फेक अकाउंट तैयार करते हैं। जिसपर लड़की की तस्वीर लगाकर अकाउंट्स पर पहले शिकार को ढूंढते हैं, जिसके बाद उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते हैं। फिर उसे मैसेंजर पर उन्हें मैसेज भ ेजते हैं। फिर सामने वाले को वीडियो काॅल की बात कहते हैं।

पहले तो उक्त महिला वीडियोकाॅल पर बात करती रहती है और फिर एकदम से अपने कपड़े उतार देती है। जिसे सामने वाला शख्स देखकर हैरान रह जाता है। इतनी ही देर में ठग उक्त सारे घटनाक्रम का स्क्रीन रिकार्डर की मदद से कैप्चर करने के बाद पीड़ित को उक्त क्लिप भेज देते हैं। फिर उस क्लिप को फ्रेंड्स और रिश्तेदारों को भेजने की धमकी देकर ब्लैकमेल करते हैं। बदनामी के डर से लोग आरोपियों द्वारा भेजे अकाउंट नंबर में पैसे डाल देते हैं। लेकिन इसकी शिकायत किसी से नहीं करते।

केस 1: डॉक्टर से ठगे 63 हजार
शहर के एक नामचीन बुजुर्ग डाक्टर के साथ एेसा ही हुआ। उन्हें फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। जिसके बाद उनकी चैटिंग होने लगी। इस दौरान न्यूड वीडियाकाॅल कर ठग ने उन्हें कैप्चर कर लिया। जिसके बाद उनका वीडियो वाॅयरल करने की धमकी का फोन आया। उन्होंने उक्त खाते में 63 हजार रूपए ट्रांसफर किए।

केस 2: नेता से 94 हजार हड़पे
एक बड़ी पार्टी के साथ जुड़े हुए नेता को भी इसी तरह से वीडियोकाॅल आई थी। कुछ ही मिनट बाद उन्हें एक क्लिप बनकर आ गया। उसे रिश्तेदारों को भेेजने की धमकी देकर 94 हजार रूपए दो खातों में डलवाए गए। अपनी बदनामी से बचने के लिए उन्होंने पैसे डाल दिए लेकिन पुलिस में शिकायत नहीं दी।

एक खाते में डालते हैं पैसे, फिर तीन खातों से होकर निकलते हैं
कुछ मामलों में पुलिस ने इंवेस्टिगेशन की है। जिसमें पता चला है कि जिस खाते में ठग पैसे डलवाते हैं, कुछ ही मिनट बाद उस खाते से पैसे एक के बाद एक तीन बैंकों के खातों से होकर ठग निकाल लेते हैं। उक्त सभी खाते फर्जी दस्तावेजों के आधार पर खुले रहते हैं। जिसकी वजह से उनकी पहचान नहीं हो पाती।

ये बरते सावधानियां

  • सोशल साइट्स पर किसी भी अंजान की फ्रेंड रिक्वेस्ट को न लीजिए।
  • अपने अकाउंट को लाॅक लगाकर रखें, ताकि कोई आपकी आईडी में तांक झांक न करे।
  • मैसेंजर पर किसी अंजान से मैसेज या वीडियो चैट न करें।
  • अगर आपके साथ कुछ गड़बड़ी हो गई है तो इसकी शिकायत साइबर सैल से करें।​​​​​​​
खबरें और भी हैं...