पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

क्योंकि फिट रहना जरूरी है:जुंबा-भंगड़ा वर्कआउट से कैलोरी बर्निंग के साथ ही किया जा रहा स्ट्रेस दूर

लुधियानाएक महीने पहलेलेखक: मनप्रीत कौर
  • कॉपी लिंक

कोविड-19 के दौरान लोगों की दिनचर्या में एक सबसे बड़ा बदलाव आया है कि वे फिटनेस को लेकर बहुत ज्यादा जागरुक हो गए हैं, क्योंकि कोरोना महामारी में लॉकडाउन अवधि में लोगों के बीच डिप्रेशन और चिंता के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई थी। शरीर को स्वस्थ बनाने के लिए कई तरह के वर्कआउट किए जा सकते हैं। ऐसे में एक तरफ जहां लोगों ने जिम में जाकर हार्ड वर्कआउट शुरू किया तो वहीं दूसरी तरफ जुंबा और भांगड़ा वर्कआउट की तरफ अपनी दिलचस्पी दिखाई।

जुंबा और भांगड़ा एक डांस वर्कआउट है। इससे मसल्स टोन होती हैं, फैट कम होता है और कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है। जुंबा डांस वर्कआउट में बेली डांस, सालसा, हिप-हॉप आदि सभी डांस स्टाइल के डांस स्टेप शामिल होते हैं। इसे करने से ताकत में बढ़ोतरी होती है। इससे तेज गति से शरीर मूव करता है। मांसपेशियों में रक्त प्रवाह बेहतर होता है और वह मजबूत बनती हैं। इस वर्कआउट से शरीर में बेहतर महसूस करवाने वाले हॉर्मोन सेरोटोनिन का उत्पादन बढ़ता हैं और मूड बेहतर होने से स्ट्रेस कम होता है।

यह ऐसा वर्कआउट है, जो लोगों को काफी दिलचस्प लगता है और शरीर को एनर्जी से भरपूर रखता है। शरीर में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ता है। इसके साथ ही जुंबा और भंगड़ा वर्कआउट स्ट्रेस बस्टर के रूप में काम करता है, जो इस कोरोनाकाल में बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है। इस वर्कआउट को अगर रेगुलर किया जाए तो एक घंटे में 500 से 800 तक कैलोरी फैट बर्न कर सकते हैं। इस डांस को हर उम्र के लोग फिट रहने के लिए कर सकते हैं, लेकिन उम्र के अनुसार इसकी इंटेन्सिटी और लेवल अलग-अलग रखा जाता है। -अभिनव सरना, फिटनेस इंस्ट्रक्टर

खबरें और भी हैं...