पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पंजाब में रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ाई:AIG हुंदल पहुंचे लुधियाना, बोले- प्रबंध पुख्ता हैं, पन्नू ने दी है खालिस्तानी झंडा फहराने की धमकी

विवेक शर्मा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में फिरोजपुर रेलवे डिवीजन के सभी स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। प्रतिबंधित आतंकी संगठन सिख फॉर जस्टिस के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू द्वारा दी गई धमकी के बाद सभी स्टेशनों पर जवानों की संख्या बढ़ा दी गई है। रविवार को सुरक्षा के हालात देखने के लिए AIG हरमीत सिंह हुंदल ने लुधियाना रेलवे स्टेशन का दौरा किया

रेलवे स्टेशन के पुलों की चैकिंग करते AIG हरमीत सिंह हुंदल।
रेलवे स्टेशन के पुलों की चैकिंग करते AIG हरमीत सिंह हुंदल।

AIG हरमीत सिंह हुंदल ने कहा कि हाल ही में सोशल मीडिया पर आंतकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने धमकी दी थी कि वह आजादी दिवस पर खालिस्तान का झंडा स्टेशनों पर लहराएगा, जिसके बाद रेलवे के समस्त स्टेशनों पर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत कर दी है। पंजाब के लोग भाईचारा पसंद करते हैं। शरारती लोगों की बातों में कोई आने वाला नहीं। AIG हरमीत सिंह ने गुरू नानक स्टेडियम का भी दौरा किया।

आपको बता दें इस तरह की धमकियां आजादी दिवस या त्योहारों के मौके पुलिस को मिलती रहती हैं। पंजाब में रेलवे स्टेशन की सुरक्षा को लेकर RPF और GRP के अधिकारियों से AIG हरमीत सिंह ने बैठक भी की। जीआरपी के AIG हरमीत हुंदल ने राज्य भर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ आनलाईन बैठक कर रेलवे पटरियों और रेलवे स्टेशनों के प्रमुख क्षेत्रों पर कड़ी निगरानी और गश्त के निर्देश जारी किए है।

ये निर्देश हाल ही में अमृतसर के पास मानावाला में भारत के राष्ट्रीय ध्वज को पटरियों पर जलाए जाने का एक वीडियो सामने आने के बाद जारी किया गया है। एक अधिकारी ने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा रात में नियमित ट्रैक गश्त सुनिश्चित करने के लिए विशेष निर्देश दिए गए थे, क्योंकि पन्नू ने ट्रेनों और पटरियों को नुकसान पहुंचाने की धमकी दी थी।

पन्नू ने आगे रेलवे स्टेशनों और डीसी कार्यालयों सहित सरकारी कार्यालयों में लगे राष्ट्रीय झंडे को उतारने और खालिस्तानी झंडे फहराने की धमकी दी है। AIG ने पंजाब भर में GRP के प्रभारियों को गश्त करने और सरकारी भवनों की सुरक्षा करने के निर्देश दिए है ताकि कोई भी शरारती व्यक्ति खालिस्तानी झंडा न फहरा सकें।

यात्रियों का सामान चेक करते GRP कर्मचारी।
यात्रियों का सामान चेक करते GRP कर्मचारी।

वहीं रेलवे के अधिकार क्षेत्र में कोई भी सरकारी भवनों की दीवारों पर राष्ट्र विरोधी नारे न लिख सके इसके लिए भी सुरक्षा प्रबंध पुख्ता किए हैं। रेलवे सुरक्षा टीमों को निर्देश दिया गया है कि वे दीवारों या ट्रेन के डिब्बों या रेलवे परिसर में कहीं भी इस तरह के किसी भी लेखन को हटाने के लिए अपने साथ पेंट स्प्रे रखें और साथ ही वरिष्ठ अधिकारियों को तुरंत इसकी सूचना दें।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि जालंधर, अमृतसर और लुधियाना सबसे संवेदनशील स्थान हैं, क्योंकि यहां राष्ट्रीय ध्वज लगाए गए हैं और इसके अलावा ये पंजाब के सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशनों में से हैं और इसलिए यहां विशेष सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक गुरपतवंत सिंह पन्नू ने पंजाब के नामी नेताओं और पुलिस अधिकारियों को अगवा करने की भी धमकी दी थी। इस बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के 15 अगस्त को लुधियाना के निर्धारित दौरे के मद्देनजर स्टेशन पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। गुरू नानक स्टेडियम की सुरक्षा 7 लेयर होगी।

आपको बता दें कि गुरु नानक स्टेडियम रेलवे स्टेशन के नजदीक है इस कारण रेलवे स्टेशन की सुरक्षा को विशेष माना जा रहा है। लुधियाना के सीपी कौस्तुभ शर्मा सहित वरिष्ठ अधिकारी नियमित रूप से वहां सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं।

रेलवे स्टेशन की सुरक्षा को लेकर एक्स्ट्रा फोर्स भी तैनात की गई है। वहीं जिन जगहों पर ट्रेन के डिब्बे खड़े हैं, वहां विशेष रूप से पहरा दिया जा रहा है। इसके अलावा किसी भी यात्री को सुरक्षा कारणों से एक घंटे से अधिक अपनी ट्रेन की प्रतीक्षा करने की अनुमति नहीं दी जा रही। सुरक्षा कड़ी करने के लिए लुधियाना रेलवे स्टेशन पर स्वतंत्रता दिवस तक दो क्यूआरटी तैनात है। 24 घंटे डॉग स्क्वायड समेत सभी सुरक्षा टीमों को अलर्ट कर दिया गया है।