पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • Khanna
  • The Bank Worker Had A Relationship With A Woman Twice His Age, When The Sons Realized That They Called Their Mother And Called Home, They Were Beaten To Death.

अवैध संबंधों का अंत:बैंक कर्मी के अपनी से दोगुनी उम्र की महिला से थे संबंध, बेटों को लगी भनक तो मां से फोन करवा घर बुलाया, पीटकर हत्‍या

खन्नाएक महीने पहलेलेखक: जतिन
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में महिला। - Money Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में महिला।

25 साल के बैंक कर्मी को अपने से दोगुनी उम्र की महिला से संबंध बनाना काफी महंगा पड़ा। बैंक कर्मी रणजोध सिंह की हत्या उससे करीब दोगुनी उम्र की 42 साल की महिला दोस्त के बेटों ने की थी। पुलिस के अनुसार रणजोध सिंह की सलौदी गांव में किरयाने की दुकान चला रही महिला हरदीप कौर के साथ दोस्ती थी। बाद में संबंध बन गए थे। खन्ना पुलिस ने मर्डर की गुत्थी सुलझाते हुए हरदीप कौर को काबू कर लिया है, जबकि उसके बड़े बेटे फौजी जशनप्रीत सिंह (24) और छोटे बेटे कमलप्रीत सिंह(22) की तलाश की जा रही है।

एेसे रची साजिश... घर में अकेली होने की बात कह बैंक मुलाजिम को घर बुला लिया
आईसीआईसीआई बैंक की खन्ना ब्रांच में काम करते माणकी के रणजोध की 42 साल की महिला हरदीप कौर से दोस्ती हुई थी, जिनके बीच संबंध बन गए थे। मां के साथ रणजोध के संबंधों की भनक उसके फौजी बेटे जशनप्रीत सिंह और छोटे बेटे कमलप्रीत सिंह को लग गई थी। इसी को लेकर हरदीप कौर के घर में क्लेश होने लगा। इसके बाद दोनों बेटों ने मां के मोबाइल से रणजोध सिंह की बात करवा बहाने से अपने घर बुला लिया।

हरदीप के फोन करने पर रणजोध सिंह ने उसे बताया भी था कि उसको घर में लड़की वाले देखने आए हुए हैं, लेकिन उसने घर में अकेली होने की बात कह उसे अपने घर बुला लिया था। रणजोध जैसे ही अपनी बाइक पर महिला के घर पहुंचा तो वहां पर दोनों बेटों ने उसे बांधकर पहले डंडों से बुरी तरह से पीटा। काफी खून बहने पर जब वह अधमरा हो गया तो दोनों बेटों ने अपनी बाइक पर रणजोध को बैठाकर उसके मुंह पर कपड़ा बांध माजरी राहौण रोड पर मक्की के खेतों में फेंक दिया।

दोनों ने रणजोध सिंह के मोबाइल से उसके घरवालों को फोन कर मोबाइल मिलने का कहकर खन्ना बुला लिया था। लेकिन जब घरवाले खन्ना पहुंचे तो दोनों बेटे वहां से गायब हो गए थे। डीएसपी राजन परमिंदर सिंह ने बताया कि पुलिस ने केस दर्ज कर मर्डर की जांच करते हुए माणकी और सलौदी गांवों के बीच 100 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों को खंगाला था। रणजोध के मोबाइल पर हुई अंतिम कॉल को जांचा तो मामले का खुलासा हो गया।

माता पिता की बात मानता तो बच जाती रणजोध की जान…
वारदात वाले दिन रविवार सुबह 10.30 बजे उसे देखने के लिए लड़की वाले आए थे। दोनों परिवारों में रणजोध की शादी को लेकर बात पक्की हो गई थी। लड़की वालों के जाने के बाद रणजोध सिंह के माता पिता उसके साथ बात कर शादी की तारीख फाइनल करने को कह रहे थे।

इसी बीच 11.40 बजे रणजोध सिंह को उसकी महिला दोस्त हरदीप कौर का फोन आ गया। माता पिता के रोकने के बाद भी वह हरदीप कौर से मिलने चला गया। इसके बाद उसका मर्डर कर दिया गया। रणजोध अगर माता पिता की बात मान जाता तो उसकी जान बच जाती।

इधर, महिला से संबंधों के चलते पत्नी को दिया जहर
लुधियाना|
किसी महिला के साथ अवैध संबंधों के चलते पति ने अपनी मां के साथ मिलकर पत्नी हीना रानी को जहरीला पदार्थ दे दिया। मृतका के मायके वालों को पता चलने पर वे तुरंत मौके पर पहुंचे और शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने पति नरेश और उसकी मां कमलेश रानी के खिलाफ पर्चा दर्ज कर शव को कब्जे में लिया। पुलिस ने आरोपी नरेश को गिरफ्तार कर लिया है। मृतका के भाई अरुण ने बताया कि नरेश के किसी महिला से अवैध संबंध थे। अरुण ने बताया कि हीना के शव पर चोटों के निशान थे और शरीर नीला पड़ा हुआ था।

खबरें और भी हैं...