पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Punjabi Singers Aujla And Harman Are In Trouble, Compare Woman To Alcohol In Song; Punjab Women's Commission's Instructions To CP And SSP: Present Both Singers And Speed Record Company Owner

पंजाबी गायक औजला और हरमन मुश्किल में फंसे:गाने में औरत की तुलना शराब से की; पंजाब महिला आयोग का CP और SSP को निर्देश: दोनों सिंगर्स के अलावा स्पीड रिकॉर्ड कंपनी मालिक को पेश करें

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब गायक करण औजला व हरजीत हरमन मुश्किल में फंस गए हैं। दोनों का हाल ही में शराब टाइटल से गीत आया है। जिसमें उन्होंने औरत की तुलना शराब, नशे व बंदूक से की है। चंडीगढ़ के रहने वाले पंडितराव धरनेश्वर ने यह गीत सुना तो पंजाब महिला आयोग को शिकायत कर दी। आयोग ने अब जालंधर के पुलिस कमिश्नर (CP) व SSP को निर्देश दिया है कि अगली सुनवाई में इन दोनों गायकों व गीत रिलीज करने वाली कंपनी स्पीड रिकॉर्ड के मालिक को पेश करें।

नाभा में गायक हरजीत हरमन के घर के बाहर धरने पर बैठे पंडितराव धरनेश्वर।
नाभा में गायक हरजीत हरमन के घर के बाहर धरने पर बैठे पंडितराव धरनेश्वर।

हरमन के घर पर धरना भी दिया, उन्होंने फिर भी गाना गाया

पंडितराव धरनेश्वर ने बताया कि करण औजला व हरजीत हरमन के इस गीत में महिला की तुलना शराब व अन्य नशे के साथ हथियारों से की है। कुछ वक्त पहले हाईकोर्ट ने उनकी याचिका पर फैसला देते हुए ऐसे गीत गाने पर रोक लगाई थी। इसके बाद वह गायक हरजीत हरमन के घर नाभा में भी धरना देने गए थे। उन्होंने हरमन से अपील की थी कि वो ऐसे गीत का हिस्सा न बनें। उन्होंने हरमन को कहा था कि वो पंजाबी सभ्याचार को उजाड़ने वाले गीत का हिस्सा न बनें। इसके बावजूद हरमन ने करण औजला के साथ यह गाना गया। जिसके खिलाफ उन्होंने महिला कमीशन को शिकायत भेज दी।

22 सितंबर को तीनों को पेश करे पुलिस : महिला आयोग

पंजाब महिला आयोग ने पुलिस कमिश्नर व एसएसपी को भेजे निर्देश में कहा कि स्पीड रिकॉर्ड कंपनी ने करण औजला व हरजीत हरमन का शराब टाइटल से गीत रिलीज किया है। जिसमें औरत की शराब, नशे व बंदूक से तुलना कर औरतों की बेइज्जती की गई है। इसलिए पंजाब राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन मनीशा गुलाटी ने इसका संज्ञान लिया है। इसलिए तीनों को 22 सितंबर काे व्यक्तिगत सुनवाई के लिए बुलाया है। इसलिए इन तीनों को तय तिथि पर कमिशन के एसएएस नगर स्थित आफिस में दोपहर 12 बजे पेश करें।

खबरें और भी हैं...