पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तेज रफ्तार कार रेलिंग तोड़ पुल से गिरी,:संत निरंकारी मिशन के संयोजक विवेक चौधरी की मौत, पत्नी व बच्चे घायल

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फ्लाई ओवर पुल से नीचे गिरी कार, जो पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। - Money Bhaskar
फ्लाई ओवर पुल से नीचे गिरी कार, जो पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई।

पंजाब के जालंधर जिले में अमृतसर-लुधियाना हाईवे पर रामामंडी फ्लाई ओवर पुल पर एक तेज रफ्तार कार पुल की रेलिंग को तोड़ते हुए सर्विस लेन पर आकर गिरी। इस हादसे में कार में सवार 5 लोग घायल हो गए हैं। एक की हालत गंभीर रूप से घायल व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत हो गई है। कार नंबर पीबी08-ईसी-1174 इतनी स्पीड पर थी कि पुल के किनारों पर लगाई गई मजबूत रेलिंग को भी उसने तोड़ डाला।

हादसे में मरने वाले पहचान संत निरंकारी मिशन ब्रांच परागपुर जालंधर के संयोजक विवेक चौधरी के रूप में हुई है। संत निरंकारी मंडल ब्रांच परागपुर के अनुसार विवेक चौधरी निवासी नज़दीक केएमवी कालेज अपनी पत्नी और बच्चों के साथ परागपुर की ओर जा रहे थे कि रास्ते में हादसा हो गया। हादसा इतना भयंकर था कि कार के एयरबैग तक खुल गए थे। स्थानीय लोगों ने कार में से घायलों को निकाल कर एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और कार को साइड पर करवाया। पुलिस वालों का कहना है कि यह हादसा ओवर स्पीड के कारण हुआ है। हाईवे पर स्पीड ज्यादा होने के कारण कार अनियंत्रित हो गई और पुल की रेलिंग को तोड़ते हुए नीचे आ गिरी।

पुलिस वालों का कहना था कि कार में से विवेक चौधरी का आधार कार्ड मिला था उसी से उनकी पहचान हई। चौधरी अपनी पत्नी औऱ बच्चों के साथ निरंकारी आश्रम की तरफ अमृतसर -लुधियाना हाईवे पर जा रहे थे कि रामामंडी फ्लाईओवर पुल पर उनकी कार अनियंत्रित होकर रेलिंग तोड़ती हुई सर्विस लेन पर जा गिरी। पुल से नीचे गिरी कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई, कार की बैटरी फट गई और सारे शीशे तक टूट गए। कार का सारा इंजन तबाह हो गया और कार पूरी तरह से पिचक गई थी।

पुलिस ने टो वैन मंगवाकर फिलहाल कार को थाने में पहुंचा दिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना था कि अभी सभी घायल बेसुध हैं और उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। होश में आने के बाद उनके नाम पतों के बारे में पचा चल पाएगा।

उन्होंने इस बात से भी इनकार नहीं किया कि हादसा नींद का झोंका लगने की वजह से भी पेश आ सकता है। बहरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और वह अपनी जांच में जुट गई है।