पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किसान आंदोलन की टाइमलाइन:पंजाब से शुरुआत, 375 दिन दिल्ली की घेराबंदी; हिंसा की बड़ी घटना नहीं, फिर भी 700 जानें गईं

जालंधर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

17 सितंबर 2020 को लागू किए गए तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर देश के इतिहास में सबसे लंबा किसान आंदोलन जारी है। पंजाब से सुलगी आंदोलन की चिंगारी पूरे देश में फैली। हजारों किसानों ने 'दिल्ली चलो' अभियान के हिस्से के रूप में कानून को पूरी तरह से निरस्त करने की मांग की और दिल्ली कूच किया था। पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्थान समेत देश के अन्य राज्यों के किसानों ने 375 दिन से दिल्ली की घेराबंदी कर रखी है।

आंदोलन में कोई बड़ी हिंसा नहीं होने के बावजूद 700 किसानों की मौत हो चुकी है। 19 नवंबर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरु नानक देव के प्रकाश पर्व पर तीनों कृषि कानून वापस लेने का ऐलान किया। संसद में कानून वापस लेने के बाद 1 दिसंबर को राष्ट्रपति भी अंतिम मुहर लगा चुके हैं। तीनों कृषि कानून खत्म होने के बाद अब किसान संगठन सभी केस वापस करने समेत कई अन्य मांगों पर अड़े हैं। आइए तारीख दर तारीख जानते हैं आंदोलन का इतिहास...