पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जालंधर वेस्ट में हाई वोल्टेज ड्रामा:फायरिंग का मामला गर्माया; MLA अंगुराल के समर्थकों ने रिंकू के खिलाफ खोला मोर्चा

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अपने समर्थकों के साथ घिरे विधायक शीतल अंगुराल। - Money Bhaskar
अपने समर्थकों के साथ घिरे विधायक शीतल अंगुराल।

बस्ती दानिशमंदा के शिवाजी नगर गोलीकांड का मामला गर्माता जा रहा है। जालंधर वेस्ट विधायक शीतल अंगुराल के समर्थक सोमवार को बस्ती दानिशमंदी में अंगुराल के दफ्तर के बाहर इकट्ठा हुए। सभी ने वहां पर पूर्व विधायक सुशील रिंकू के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद विधायक शीतल अंगुराल ने वहां आकर अपने समर्थकों से कहा कि जो गोली चली है वह पूर्व विधायक रिंकू की साजिश है।

समर्थकों को शीतल अंगुराल ने शांत करवाया, लेकिन वह चुप नहीं बैठे। समर्थक इस दौरान विधायक के भाई राजन अंगुराल, जिन पर सुशील रिंकू ने दीपक उर्फ दीपू पर फायरिंग करवाने का आरोप लगाया था, के नेतृत्व में थाने के बाहर पहुंच गए। वहां जमकर नारेबाजी। पुलिस पर भी आरोप लगाए कि वह पूर्व विधायक के दबाब में काम कर रही है।

थाने के बाहर प्रदर्शन करते विधायक के भाई राजन अंगुराल और समर्थक। पुलिस अधिकारियों के सामने चोटिल समर्थक भी साथ नजर आ रहा है।
थाने के बाहर प्रदर्शन करते विधायक के भाई राजन अंगुराल और समर्थक। पुलिस अधिकारियों के सामने चोटिल समर्थक भी साथ नजर आ रहा है।

विधायक के भाई को थाने के बाहर देखकर पुलिस अधिकारी भी वहां पहुंच गए। उन्होंने भीड़ को शांत करवाने की कोशिश की। भीड़ का कहना था कि खुद गोली चलाकर झूठे आरोप लगाने वाले कांग्रेस नेता दीपक उर्फ दीपू को गिरफ्तार किया जाए। क्या पुलिस रिंकू के दबाब में है। इस पर पुलिस अधिकारियों ने कहा कि वह इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों खंगाल रही है, जो भी दोषी मिलेगा उसकी गिरफ्तारी होगी और उसके खिलाफ कार्रवाई भी होगी।

विधायक का आरोप अज्ञात पर किया पुलिस ने पर्चा दर्ज

दानिशमंदा के शिवाजी नगर गोलीकांड को लेकर विधायक शीतल अंगुराल बेबस नजर आए। सत्ता में आप की सरकार और खुद सत्ताधारी दल के विधायक। फिर भी बोल रहे थे कि पुलिस पूर्व विधायक सुशील रिंकू के दबाब में काम कर रही है। पुलिस को कन्फर्म भी हो गया है कि गोली दीपक उर्फ दीपू ने चलाई, फिर भी पुलिस दीपू को गिरफ्तार करने के बजाय अज्ञात पर पर्चा दर्ज कर जांच में जुटी है। उन्होंने अपने दफ्तर के बाहर जुटे समर्थकों के बीच कहा कि उनके किसी समर्थक ने गोली नहीं चलाई थी। उनके पास कोई हथियार नहीं था। यदि दीपक या कांग्रेसी उनके समर्थकों को पास हथियारों की बात साबित कर दें तो वह इस सारे प्रकरण की जिम्मेदारी खुद पर ले लेंगे। उन्होंने कहा कि यह सारी साजिश पूर्व सुशील रिंकू ने रची है।

विधायक शीतल अंगुराल के दफ्तर के बाहर जमा समर्थकों की भीड़
विधायक शीतल अंगुराल के दफ्तर के बाहर जमा समर्थकों की भीड़

शीतल ने कहा कि वह परिवार के साथ घूमने गए थे और पीछे से रिंकू ने यह सारा ड्रामा रच दिया। अगर मेरे समर्थकों के पास कोई हथियार था तो पुलिस कार्रवाई करे। अगर मेरे वर्करों को धमकाने की कोशिश की तो बर्दाश्त नहीं करेंगे। आज के बाद अगर ये लोग कहीं भी धरना लगाएंगे तो मैं पांच हजार लोग लेकर बराबर धरना लगाऊंगा। इस दौरान शीतल के समर्थकों ने सुशील रिंकू मुर्दाबाद के नारे लगाए। शीतल अंगुराल ने कहा कि- पूर्व विधायक रिंकू इलाके के लोगों को मरवाना चाहता है। इसके बाद आप समर्थक थाना पांच पहुंचे जहां उन्होंने पुलिस से दीपक की गिरफ्तार की मांग की।

विधायक शीतल ने कहा कि दीपक इलाके चिट्टा बिकवाता है। शीतल ने आरोप लगाया कि आज भी पुलिस वाले पूर्व विधायक के कहने पर काम कर रहे हैं। जब मीडिया ने विधायक शीतल से सवाल किया कि अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि सरकार बनने के बाद चिट्टा बेचने वाले सलाखों के पीछे होंगे और नशा बिकना बंद हो जाएगा तो फिर आपके इलाके में चिट्टा कैसे बिक रहा है। शीतल ने कहा कि उनके इलाके में ऐसा नहीं हुआ है। वह कमिश्नर से कई बार मीटिंग कर चुके हैं। कुछ पुलिस वाले पुरानी सरकारों के लगे हुए हैं जो बदले नहीं गए। वही ये सारा चिट्टा बिकवा रहे हैं।

राजन ने पेश किया चोटिल समर्थक

विधायक के भाई राजन अंगुराल ने एक लड़का मीडिया के सामने पेश किया, जिसे चोट लगी थी। राजन अंगुराल ने सवाल किया कि अगर इन लड़कों के पास हथियार थे तो ये जख्मी कैसे हो गया। शीतल ने प्रशासन को चेताया कि वह अपने इलाके का माहौल खराब नहीं होने देंगे। वह किसी भी तरह की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि इलाके का माहौल खराब हुआ तो उसके लिए प्रशासन जिम्मेदार होगा।