पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %
  • Business News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Farmers' Anger Erupted Over BJP Leader In Jalandhar After The State Spokesperson's Challenge To Bring Cot And White Sheets, Sacks Of Dung Thrown At Kahlon's House, Grandson On Walls Too

पंजाब के विवादित BJP नेता काहलों के सुर बदले:किसानों ने घर पर गोबर फेंका तो बोले- मेरी बातों से किसी को ठेस पहुंची तो मुझे खेद है, पहले दी थी चारपाई और सफेद चादर लाने की चुनौती

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भाजपा नेता काहलों के घर की दीवार पर गोबर पोतते गुस्साए किसान।

भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश प्रवक्ता एडवोकेट एचएस काहलों के घर बुधवार देर रात किसानों ने गोबर पोत दिया तो उनके सुर बदल गए। काहलों ने कहा कि उन्होंने सामान्य बात कही थी कि कोई गर्म दिमाग वाला होता तो किसानों के साथ ऐसा कर देता। उनकी बात को गलत ढंग से लिया गया। उन्होंने कहा कि अगर किसी को उनकी बातों से ठेस पहुंची है तो उसके लिए वो खेद प्रकट करते हैं। हालांकि उन्होंने सीधे तौर पर किसानों से माफी नहीं मांगी।

बता दें कि बुधवार देर रात काहलों के बयानों के बाद किसानों का गुस्सा फूट पड़ा। किसानों ने उनके जालंधर के दकोहा स्थित घर में गोबर की बोरियां फेंकी और दीवारों पर भी गोबर पोत दिया। बिजली कनेक्शन भी काट दिया। वहीं मौके पर पुलिस खड़ी तमाशबीन बनी रही। इसके बाद किसानों ने काहलों का पुतला भी फूंका।

हालांकि जिस वक्त यह सब हो रहा था, एडवोकेट काहलों घर पर नहीं थे। इससे पहले किसानों ने उनके घर का घेराव भी किया था। किसानों ने कहा कि एक तरफ भाजपा की अगुवाई वाली सरकार ने कृषि के काले कानून लाकर किसानों को बेघर कर दिया है तो दूसरी तरफ भाजपा नेता विवादित टिप्पणियां कर रहे हैं।

भाजपा नेता एडवोकेट एचएस काहलों की नेम प्लेट उखाड़ते किसान।
भाजपा नेता एडवोकेट एचएस काहलों की नेम प्लेट उखाड़ते किसान।

काहलों ने कहा था - गोबर लाए तो चारपाई और सफद चादर ले आना
अकाली दल छोड़ भाजपा में शामिल हुए प्रदेश प्रवक्ता ने जालंधर में शीतला माता मंदिर स्थित BJP ऑफिस में विवादित बयान दिया था। यहां काहलों का सम्मान समारोह रखा गया था। उसमें काहलों ने कहा था कि जब वह BJP में शामिल होने वाले थे तो उन्हें एक व्यक्ति का फोन आया। उसने कहा कि अगर भाजपा में जाओगे तो गोबर की ट्रॉली तैयार खड़ी है। मैंने पूछा कि क्यों तो वे बोले कि आपके दरवाजे पर फेंकनी है।

काहलों ने जवाब दिया कि अगर तुम गोबर लेकर आओगे तो उसके साथ एक चारपाई और सफेद चादर भी ले आना। उसने पूछा क्यों? तो मैंने कहा कि जो गोबर की ट्रॉली लेकर आएगा, वह चारपाई पर लेटकर जाएगा। तुम स्टील के बने हो या मैं प्लास्टिक का। सीधे तौर पर किसानों को चुनौती देने से पूरा मामला तूल पकड़ गया था। जिसके बाद भड़के किसानों ने पहले काहलों के घर प्रदर्शन किया और फिर पूरे घर को गोबर से पोत दिया।

भड़के किसानों ने काहलों के घर का बिजली कनेक्शन भी काट दिया।
भड़के किसानों ने काहलों के घर का बिजली कनेक्शन भी काट दिया।

किसानों को डंडे मार जेल में डालने का भी दिया था बयान
जालंधर के इसी समारोह में काहलों ने यह भी कहा था ये तो मोदी साहब हैं जो किसानों को प्यार करते हैं। अगर उनके जैसा दिमाग वाला आदमी होता तो डंडे मारकर इन्हें जेल के अंदर डाल देता। काहलों ने वामपंथियों पर भी निशाना साधा था कि लाल झंडे वाले जिस घर में घुस जाते हैं वह उजड़ जाता है। इसकी वजह से उनकी रोजी-रोटी चल रही है। हालांकि संयुक्त किसान मोर्चा नेता बलबीर राजेवाल ने इसका जवाब दिया था कि अगर वह इसी तरह बकवास करेंगे तो ऐसा सबक सिखाएंगे कि नानी याद आ जाएगी।

खबरें और भी हैं...