पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलस ऐदां वी करदी ऐ:पीएपी के 23 क्वार्टरों में बिजली चोरी, कहीं चुंबक लगा मीटर रोका तो कहीं डाली कुंडी

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीएपी में पकड़ा गया मीटर, जिसे चुंबक लगाकर रोका गया था। - Money Bhaskar
पीएपी में पकड़ा गया मीटर, जिसे चुंबक लगाकर रोका गया था।

पीएपी काॅम्प्लेक्स के क्वार्टरों में वीरवार को पावरकाॅम के इंफोर्समेंट विंग ने छापेमारी करके बिजली चोरी के 23 केस पकड़ कर 6.50 लाख रुपए जुर्माना लगाया है। बड़ी बात है कि यहां पर वे इलेक्ट्रो मैकेनिकल (गरारी वाले) मीटर चल रहे थे, जो करीब 17 साल पहले ही बंद हो चुके हैं। मुलाजिमों ने बिजली मीटर पर चुंबक रखकर मीटर रोक रखा था।

टीम ने डायरेक्ट कुंडी के 23 केस पकड़े हैं। अब पावरकाॅम की टीमें पीएपी काॅम्प्लेक्स में सभी क्वार्टरों में लोड चेक करेंगी। अगर कोई गैर कानूनी तरीके से लोड का इस्तेमाल करते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी। हालांकि पीएपी काॅम्प्लेक्स में की गई बड़ी कार्रवाई है, लेकिन जुर्माना कम लगाया गया है।

मुलाजिमों के विरोध पर भी नहीं छोड़ा
पीएपी में बिजली चोरी के केसों और जुर्माने की पुष्टि पावरकाॅम के इंफोर्समेंट विंग के डिप्टी चीफ इंजीनियर रजित शर्मा ने की है। उन्होंने बताया कि डिस्ट्रीब्यूशन विभाग को सभी क्वार्टरों के मीटर बदलने के लिए कहा गया है। पीएपी में जितने भी पुराने मीटर लगे हुए हैं, उनकी जगह नए मीटर लगाए जाएंगे। वहीं, चेकिंग करने पहुंची टीम ने बताया कि जैसे ही वे पीएपी काॅम्प्लेक्स में पहुंचे तो एकदम हफड़ा-तफरी मच गई।

चेकिंग में लगातार ही एक ही लाइन में कुंडी कनेक्शन मिल गए। टीमों ने कुंडी के लिए डाली गई तारें कब्जे में ले लीं। उन्होंने बताया कि ज्यादातर पुलिस मुलाजिमों ने डायरेक्ट कुंडी डालकर एसी व कूलर चलाए हुए थे। हालांकि इस दौरान कई मुलाजिमों ने टीम के साथ बहस भी की, लेकिन सभी पर कार्रवाई की गई।

...इधर, धोगड़ी रोड पर गेस्ट हाउस में छापा
धोगड़ी रोड पर स्थित गेस्ट हाउस पर पावरकाॅम की इंफोर्समेंट विंग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बिजली चोरी पकड़ी है। सीनियर एक्सईएन सुखपाल सिंह द्वारा की गई कार्रवाई के दौरान गेस्ट हाउस में लगे मीटर को उतार कर एमई लैब में चेकिंग के लिए भेजा गया तो मीटर में दो छेद पाए गए। जब बाॅडी को खोलकर देखा गया तो उसमें से मेन तार काटी हुई थी और तार मेन केबल से सीधी जोड़ी गई थी।

इससे असल खपत रिकाॅर्ड नहीं हो रही थी। डिप्टी चीफ इंजीनियर रजित शर्मा ने बताया कि गेस्ट हाउस मालिक को 10 लाख रुपए जुर्माना लगाया गया है और बिजली एक्ट 2003 की धारा 135 के तहत मामला दर्ज किया गया है। गेस्ट हाउस का सेंक्शन लोड 20 किलोवाट है और 5 हजार यूनिट की खपत पहले रिकार्ड की गई। इसके आधार पर ही जुर्माना लगाया गया है।

खबरें और भी हैं...