पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %

खुशी के लिए करतब:60 साल के स्टंट मास्टर,चलती बाइक पर खड़े होकर करते हैं भंगड़ा दिल्ली आंदोलन में भी इसी तरह गए, लोगों से ऐसा न करने की अपील

बटालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लोगों की खुशी के लिए शुरू किया था स्टंट, खेतीबाड़ी का काम करते हैं अनूप सिंह - Money Bhaskar
लोगों की खुशी के लिए शुरू किया था स्टंट, खेतीबाड़ी का काम करते हैं अनूप सिंह

पैसे के लिए ताे करतबबाज अकसर माेटरसाइकिलाें के जरिए स्टंट करके करतब दिखाते रहते हैं, लेकिन बटाला के 60 वर्षीय अनूप सिंह न ताे पैसे के लिए और न ही फिल्मी पर्दे पर आने के लिए, बल्कि लाेगाें की खुशी की खातिर दाेनाें हाथ छाेड़कर बाइक पर भंगड़ा करते हैं। हाल ही में निकले बाबे दे व्याह पर भी बुजुर्ग अनूप सिंह ने बाइक पर करतब दिखाए, इसका संगत ने खूब आनंद लिया। वहीं, अनूप सिंह ने कहा कि लोग मुझे देखकर स्टंट न करें। मुझे 20 साल का तुजुर्बा है।

कहा-स्टंट से बच्चे खुश हुए मतलब रब खुश हो गया, इसके बाद लगातार जारी है स्टंट

गांव चाचोवालियां के रहने वाले हैं

अनूप सिंह बटाला के नजदीक गांव चाचाेवालिया के निवासी हैं, इनकी 2 लड़कियां और 2 लड़के हैं। अनूप सिंह ने बताया कि वह किसान हैं और खेतीबाड़ी का काम करते हैं। वह राेजाना 350 रुपए का तेल माेटरसाइकिल पर डलवाते हैं। कई बार स्टंट देखकर लाेग खुशी से पैसे भी देते हैं, लेकिन वह नहीं लेते, क्याेंकि वह अपने तुजुर्बे काे कमाई का साधन नहीं बनाना चाहते। वह दिल्ली में किसान आदाेलन में भी 2 बार माेटरसाइकिल पर भंगड़ा करते जा चुके हैं और भंगड़ा करते ही वापस आए थे।

हाथ छोड़कर कई किमी. चला लेते बाइक

अनूप सिंह ने बताया कि वह गुरुद्वारा संत बाबा हजारा सिंह जी छाेटे घुम्मण में नतमस्तक हाेने के लिए अकसर जाते हैं। रास्ते में उन्हाेंने एक दिन ऐसे ही बाइक के दाेनाें हाथ छाेड़कर स्टंट किया। रास्ते में जिन बच्चाें ने उनका स्टंट देखा, उनकी मुस्कुराहट ने उनका मन माेह लिया। उन्हाेंने फिर से एक किलाेमीटर वापस आकर जब उन बच्चाें से पूछा ताे वह कहने लगे कि उन्हें स्टंट देखकर बहुत मजा आया है। उन्हाेंने इसके बारे में गुरुद्वारा साहिब के बाबा जी काे बताया ताे उन्हाेंने कहा कि बच्चे खुश हाे गए ताे समझाे रब खुश हाे गया। इसके बाद से मैंने स्टंट करना लगातार जारी रखा।​​​​​​​

अनूप सिंह बोले-मैं यह शौक के लिए करता हूं
अनूप सिंह ने बताया कि उन्हें बाइक पर हाथ छाेड़कर स्टंट करते हुए करीब 20 साल हो चुके हैं। वह लाेगाें और युवाओं काे अपील करते हैं कि उनको देखकर वे लाेग ऐसा न करें, क्याेंकि जान बहुत कीमती है। वह ताे केवल शाैक के लिए और लाेगाें की खुशी के लिए ऐसा करते हैं। ​​​​​​​

खबरें और भी हैं...