पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

शहर में डेंगू के 16 नए केस मिले:जगह-जगह जलभराव; स्प्रे हुआ नहीं, फॉगिंग में भी खानापूर्ति, इसलिए 52 मजदूर और 10 फैक्टरी मालिक हो चुके संक्रमित

अमृतसरएक महीने पहलेलेखक: शिवराज द्रुपद
  • कॉपी लिंक
फोकल प्वाइंट इलाके में खाली पड़े प्लॉट में भरा पानी, जहां लार्वा पनप रहा है। - Money Bhaskar
फोकल प्वाइंट इलाके में खाली पड़े प्लॉट में भरा पानी, जहां लार्वा पनप रहा है।

जिले में कोरोना के बीच डेंगू का प्रकोप दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। शहर के इंडस्ट्रियल एरिया फोकल प्वाइंट में हालात और भी खराब हैं। यहां 400 से ज्यादा फैक्टरियां हैं, जिनमें 15 हजार से ज्यादा मजदूर काम करते हैं। नगर निगम की लापरवाही से इलाके में जगह-जगह जलभराव है, जिनमें डेंगू का लार्वा पनप रहा है। खास बात यह है कि जिले के कुल 358 डेंगू के मरीजों में से 20% फोकल प्वाइंटस से ही हैं।

डेंगू के बचाव में लगी विभाग की टीमों में तालमेल न होने से बढ़ रही बीमारी
सेहत विभाग और नगर निगम की टीमें डेंगू की रोकथाम के लिए कसरत कर रहीं हैं, लेकिन आपसी तालमेल नहीं होने से बीमारी बढ़ रही है। जलभराव, कबाड़ और साफ-सफाई की कमी वाले इलाकों में डेंगू अिधक फैल रहा है। फोकल प्वाइंट जैसे इंडस्ट्रियल एरिया वर्तमान में डेंगू का गढ़ बन गया है। मजदूर संगठन उत्तर प्रदेश कल्याण परिषद के नुमाइंदों के अनुसार 50 के करीब मजदूर डेंगू की चपेट में आ चुके हैं। दर्जन भरके फैक्ट्री मालिक भी डेंगू का शिकार हैं।

लाखों रुपए का टैक्स, फिर भी जलभराव : अग्रवाल

फोकल प्वाइंट इंडस्ट्री एसोसिएशन के निपुन अग्रवाल का कहना है िक इलाके के हालात खराब हैं। कारोबारी सालाना लाखों रुपए का टैक्स भरता है बावजूद इसके ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

जिम्मेदार विभाग के खिलाफ हो कार्रवाई
उत्तर प्रदेश कल्याण परिषद के महासचिव राम भवन गोस्वामी और मेंबर संतोष सिंह गांधी का आरोप है कि साफ-सफाई के अभाव और जलभराव से डेंगू फैल रहा है। उन्होंने कहा कि जिम्मेदार विभाग पर कार्रवाई होनी चाहिए।

रोज औसतन 10 नए केस आ रहे... डेंगू के रोजाना औसत 10 नए केस आ रहे हैं। वीरवार को भी 16 नए मरीज रिपोर्ट हुए। अब मरीजों की संख्या 358 हो गई है।

फाॅगिंग के लिए 10 मैनुअल मशीनें खरीदी जा रहीं : मेयर

मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू और निगम कमिश्नर मलविंदर सिंह जग्गी ने वीरवार को सेहत विभाग के अफसरों संग मीटिंग की। उन्हाेंने कहा कि 16 मशीनों से फाॅगिंग कराई जा रही है। वहीं इमरजेंसी में 10 मैन्युल मशीनें भी खरीदने जा रहे हैं। एंटी मलेरिया विभाग शहर में सुबह-शाम फाॅगिंग करवा रहा है।

खबरें और भी हैं...