पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अमृतसर में धर्मस्थल पर छिछोरपंती:लड़की को फंसाने की जुगत में थे 2 युवक, SGPC के सुपरवाइजर ने रोका तो धारदार हथियारों से किया हमला, कुछ ही देर में दोनों को पुलिस ने धरा

अमृतसर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिंबॉलिक इमेज - Money Bhaskar
सिंबॉलिक इमेज

अमृतसर में प्रसिद्ध धर्मस्थली स्वर्ण मंदिर के दरबार साहिब परिसर में एक ओछी हरकत सामने आई है। बताया जा रहा है कि यहां दो लड़के एक लड़की को बातों में फंसाने की कोशिश कर रहे थे, जब इन्हें रोका गया तो इन्होंने सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) के सुपरवाइजर पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। हालांकि सुपरवाइजर की हिम्मत के चलते कुछ ही देर में दोनों आरोपियों को पुलिस ने धर-दबोचा।

आरोपियों की पहचान बटाला के घुमाणा निवासी गुरदयाल सिंह और सुल्तानविंड रोड निवासी गुरविंदर सिंह के रूप में हुई है। SGPC के सुपरवाइजर हरविंदर सिंह बुधवार दोपहर बाद करीब 3 बजे वह अपनी ड्यूटी के दौरान परिक्रमा के बीच मीरी-पीरी के पास खड़े थे। उनकी नजर दो युवकों पर पड़ी, जो एक युवती से बात कर रहे थे। वो युवती को बातों में फंसाकर साथ ले जाने की फिराक में थे। शक हो जाने पर हरविंदर ने युवकों को तुरंत टोक दिया।

इस रोक-टोक के चलते गलत हरकत कर रहे दोनों युवकों ने कृपाण और किरच से हरविंदर सिंह पर वार किया। भीड़ का फायदा उठाकर आरोपी मौके से भाग भी निकले, लेकिन SGPC सुपरवाइजर ने तुरंत इस बारे में अपने अधिकारियों और पुलिस को दी। गलियारा चौकी के इंचार्ज एएसआई अमरजीत सिंह ने टीम के साथ आरोपियों को आसपास ढूंढना शुरू कर दिया। कुछ ही देर में पुलिस ने दोनों आरोपियों को गलियारे के पास गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल आरोपियों के खिलाफ धारा 295, 511 और 34 के तहत मामला दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...