पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60821.62-0.17 %
  • NIFTY18114.9-0.35 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476040.47 %
  • SILVER(MCX 1 KG)650340.55 %

उपभोक्ता एसडीओ के पास पहुंचे:रीडर नेे बिजली बिलों की कैश पेमेंट ले चेक लगाए, बाउंस होने पर टर्मिनेट

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फ्लू एंड ग्रिड कंपनी के अंडर काम कर रहे साउथ सबडीविजन पावर स्टेशन के एक मीटर रीडर लोगों से लाखों रुपए की ठगी कर डाली। आरोपी ने साउथ सब डिवीजन के उपभोक्ताओं से बिजली बिल की पेमेंट कैश लेने के बाद अपने बैंक खाते का चेक पावरकॉम को दे दिया। मगर यह चेक बाउंस हो गया। मामला कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर के पास पहुंचा। उन्होंने जांच के बाद आरोपी को टर्मिनेटर कर दिया। एक्सईएन मनोहर सिंह ने

बताया कि 7 से ज्यादा उपभोक्ताओं ने एसडओ इकबाल सिंह को आकर शिकायत की कि उनके बिजली बिलों में पुराने बिलों की राशि भी जोड़कर भेजी गई है। जांच शुरू की तो सभी उपभोक्ता के अकाउंट नंबर में एक ही व्यक्ति के बैंक अकाउंट के चेक लगे थे। जो बाउंस हो चुके थे। जांच में बैंक अकाउंट मीटर रीडर मनजिंदर सिंह का पाय गया।

लोगों के साढ़े तीन लाख रुपए हड़पे, सीपी को भी शिकायत
एसडीओ इकबाल सिंह ने बताया कि आरोपी मीटर रीडर मनजिंदर सिंह गांव माहल, काले घनुपूर और आस-पास की काॅलोनियों में लगे मीटरों की रीडिंग लेता था। वह लोगों के घरों के बिल लेकर आफिस में जमा कराने लगा। लोगों ने बिलों की करीब साढ़े तीन लाख से ज्यादा की राशि जमा करवाने को दी, जो आरोपी मनजिंदर ने अपनी जेब में डालकर उसके बदले पॉवरकाम को अपने खाते का चेक देता रहा, मगर ये बाउंस हो गए। जांच

में पता चला कि एक ही नाम के करीब साढ़े तीन लाख रुपए के चेक बाउस हुए है। इसिए आरोपी को टर्मिनेटर किया गया। पॉवरकाम ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करवाने को लेकर पुलिस कमिश्नर को भी लिखा है। दूसरी तरफ मीटर रीडर की जालसाजी का शिकार हुए लोग भी पुलिस के पास जाने की तैयारी कर रहे है।

खबरें और भी हैं...