पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिक्रम मजीठिया के खिलाफ दूसरी FIR:अमृतसर पहुंचते ही रोड शो निकालने पर कार्रवाई, अकाली दल को भी आयोग का कारण बताओ नोटिस जारी

अमृतसर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ड्रग केस में नाम जुड़ने के बाद अब अकाली दल के मजीठा से उम्मीदवार बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ अमृतसर में एक और FIR दर्ज हुई है। FIR चुनाव आयोग की निशानदेही पर दर्ज हुई। गौरतलब है कि हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद शनिवार को मजीठिया पहली बार अमृतसर पहुंचे थे। उनके साथ गाड़ियों का लंबा काफिला था और गोल्डन गेट पर उनका सिरोपा पहनाकर स्वागत किया गया।

चुनाव आयोग की सर्विलांस टीम ने इस रैली का संज्ञान लेते हुए कार्रवाई का आदेश दिया है। ड्रग केस में केस दर्ज होने के बाद बिक्रम मजीठिया काफी समय तक अंडरग्राउंड रहे। इस केस में जमानत मिलने के बाद मजीठिया शनिवार दोपहर अमृतसर पहुंचे थे। कोरोना के मद्देनजर चुनाव आयोग ने किसी भी प्रकार की रैली या सभा करने पर रोक लगा रखी है। आयोग ने पहले ये रोक 15 जनवरी तक लगाई थी, जिसे शनिवार को बढ़ाकर 22 जनवरी तक कर दिया है। इसके बावजूद मजीठिया के शहर में पहुंचने पर गाड़ियों का लंबा काफिला उनके साथ था। गोल्डन गेट पर भी उनके स्वागत के लिए बहुत से लोग जुटे। ईस्ट हलके के रिटर्निंग अफसर अर्शदीप सिंह लुबाना ने कार्रवाई की पुष्टि की है।

डिजास्टर मैनेजमेंट के तहत कार्रवाई
मजीठिया के खिलाफ FIR थाना सुल्तानविंड में दर्ज की गई है। यह FIR 188-IPC, आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 की धारा 51 और महामारी रोग एक्ट 1897 के तहत दर्ज किया गई है। इतना ही नहीं चुनाव आयोग ने नियमों की अनदेखी करने पर पार्टी को भी नोटिस भेजकर जवाब मांगा है।

खबरें और भी हैं...