पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %
  • Business News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • In 19 Days, 1.10 Lakh Doses Have Been Taken More Than In August, If The Same Speed Remains, Then 100% Target Of First Dose Is Not Far.

अमृतसर में वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में उत्साह:सितंबर के 19 दिनों में अगस्त के मुकाबले लगे 1.10 लाख ज्यादा टीके, यही रफ्तार रही तो पहली डोज का 100% लक्ष्य दूर नहीं

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक से पहले अमृतसर के लोग खुद को मजबूत कर रहे हैं। सितंबर महीने के 19 दिनों में ही 3,67,278 डोज अभी तक लग चुकी है, जो अगस्त महीने से 1.10 लाख डोज ज्यादा है। सेहत विभाग का अनुमान है कि अगर इसी तरह डोज मिलती रही और लोगों का उत्साह बरकरार रहा तो आने वाले डेढ़ महीनों से भी पहले अमृतसर अपना पहली डोज का 100 प्रतिशत लक्ष्य पूरा कर लेगा।

अमृतसर में 18 साल से अदिक उम्र के 15.20 लाख लोग हैं।
अमृतसर में 18 साल से अदिक उम्र के 15.20 लाख लोग हैं।

सेहत विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार, अमृतसर में 19 सितंबर तक 13,50,467 डोज कोरोना वैक्सीनेशन की लग चुकी है। जिसमें से पहली डोज 10,33,904 लोगों को पहली और 3,16,563 लोगों को वैक्सीनेशन की दूसरी डोज भी लग चुकी है। सितंबर के पहले 19 दिनों में कुल 3,67,278 डोज लगाई गई। वहीं अगस्त की बात करें को पूरे महीने में मात्र 2,53,226 डोज लगाई गई थीं। स्पष्ट है कि सितंबर महीने में पिछले महीने से 1.10 लाख डोज अधिक लग चुकी है। यही रफ्तार रही तो 15.20 लाख को वैक्सीनेट करने का आंकड़ा आने वाले डेढ़ महीने में पूरा हो सकता है।

एक्टिव केस 17, पॉजिटिव की गिनती भी अभी है कम
सेहत विभाग के अनुसार फिलहाल शहर में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है। बीते दिनों पॉजिटिव मामलों की गिनती प्रति दिन 5 से कम ही है। रविवार मात्र दो केस सामने आए और दोनों ही नए पॉजिटिव केस थे। इसके साथ ही एक्टिव मामलों की गिनती भी फिलहाल 17 है।

पूरे महीने में मात्र एक पॉजिटिव केस
अगस्त महीने में मौत दर भी पिछले माह से काफी कम है। सितंबर महीने में सिर्फ एक ही डेथ 17 तारीख को सामने आयी। लेकिन अगस्त महीने में 4 मरीजों की मौत कोरोना के साथ हुई थी। सेहत विभाग का कहना है कि कोरोना वैक्सीनेशन के कारण मृत्यु दर में भी कमी आएगी। सेहत विभाग तीसरी लहर के लिए तैयार हो रहा है।

खबरें और भी हैं...