पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %

होटलों में रुकने वाले अपराधियों पर नजर:अमृतसर समेत 3 शहरों में CVIRM सिस्टम का पायलट प्रोजेक्ट, कमरा किराए पर लेने वालों का डाटा अपने आप पुलिस के पास पहुंचेगा, दूसरे शहरों में भी जल्द होगा लागू

अमृतसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस कमिश्नर विक्रम जीत दुग्गल CVIRM सिस्टम के बारे में बताते हुए। - Money Bhaskar
पुलिस कमिश्नर विक्रम जीत दुग्गल CVIRM सिस्टम के बारे में बताते हुए।

वारदात करके शहर के होटलों में पनाह लेने वाले आरोपियों पर पुलिस अब नजर रखने वाली है। अमृतसर में यह सिटी विजिटर इन्फोर्मेशन एंड रिकार्ड मैनेजमेंट (CVIRM) सिस्टम को लॉन्च किया है। यह पंजाब का पायलट प्रोजेक्ट है और इसे अमृतसर के अलावा जालंधर और मोगा में भी शुरू किया गया है। यह एक ऐसा सिस्टम है, जिसमें होटलों में रुकने वाले और पीजी या किराए पर रहने वाले लोगों को डाटा पुलिस के पास पहुंच जाएगा। इसके अलावा हथियार डीलरों, सेकेंड हैंड वाहन खरीदने व बेचने वालों, सुरक्षा एजेंसियों और 10 से अधिक कर्मचारी वाले उद्योगों को भी इस सिस्टम से जोड़ा जाएगा।

पुलिस कमिश्नर विक्रम जीत दुग्गल ने जानकारी दी कि 200 होटलों को इस सिस्टम के साथ जोड़ दिया गया है। अगर कोई वांटेड व्यक्ति किसी होटल में रुकता है और होटल मालिक उसकी एंट्री करता है तो उसी वक्त पुलिस को अलर्ट मिल जाएगा। जल्द ही शहर के सभी होटल व पीजी इस साफ्टवेयर के साथ जोड़ दिए जाएंगे। इससे गैरकानूनी पनाह देने वालों पर भी नजर रखी जा सकेगी। इसके अलावा साफ्टवेयर के साथ सेकेंड हैंड वाहन खरीदने व बेचने वाले और हथियार डीलर भी साथ जोड़े जाएंगे। देखने में आया है कि कुछ लोग वाहन खरीदने के बाद उसे अपने नाम पर नहीं चढ़ाते। लेकिन जब भी कोई वाहन खरीदेगा या बेचेगा तो उसका डाटा इस साफ्टवेयर पर आ जाएगा।

खबरें और भी हैं...