पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घायल मादा तेंदुआ की मौत:बाघ के साथ संघर्ष में रीढ़ की हड्डी में लगी थी गंभीर चोट, हुआ अंतिम संस्कार

उमरिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बाघों के लिए विश्व प्रसिद्ध बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व से शनिवार को वन्य प्राणी प्रेमियों के लिए बुरी खबर आई है। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के पनपथा कोर एरिया में घायल मिली मादा तेंदुआ की मौत हो गई। घायल मिले स्थान के आसपास के क्षेत्र की डॉग स्क्वायड से सर्चिंग भी करवाई जा रही है।

शुक्रवार को गश्ती दल ने पनपथा कोर परिक्षेत्र के चंसुरा के आरएफ 438 में गश्ती दल को घायल मादा तेंदुआ मिली। जानकारी लगते ही इलाज शुरू किया गया, लेकिन शनिवार को घायल मादा तेंदुआ की मौत हो गई। मादा तेंदुआ की उम्र करीब 6 साल बताई गई। घायल मादा तेंदुआ की पीएम करवाकर अंतिम संस्कार कराया गया।

मादा तेंदुआ की उम्र करीब 6 साल बताई गई। घायल मादा तेंदुआ की पीएम करवाकर अंतिम संस्कार कराया गया।
मादा तेंदुआ की उम्र करीब 6 साल बताई गई। घायल मादा तेंदुआ की पीएम करवाकर अंतिम संस्कार कराया गया।

आपसी संघर्ष बताया गया कारण
मिली मादा तेंदुआ का बाघ के साथ संघर्ष हुआ था। मादा तेंदुआ इस संघर्ष में बुरी तरह घायल हो गई थी। उसकी रीढ़ की हड्डी में चोट लगी थी। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व की सहायक संचालक एफएस निमाना ने बताया कि आपसी संघर्ष में मादा तेंदुआ घायल हो गई थी, उसमें उसकी मौत हो गई। पीएम करवा कर अंतिम संस्कार करवाया है।

खबरें और भी हैं...