पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX56747.14-1.65 %
  • NIFTY16912.25-1.65 %
  • GOLD(MCX 10 GM)476900.69 %
  • SILVER(MCX 1 KG)607550.12 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Tokens Will Be Available On The Lines Of Metro, There Will Also Be Censor Barricading, Firstly For VIP Devotees, At Gate 4 And 5, Counting Of Devotees Will Be Done By Head Sensor

महाकाल मंदिर में हाईटेक एंट्री:मेट्रो की तर्ज पर मिलेगा टोकन, सेंसर बैरिकेडिंग भी होगी, सबसे पहले VIP श्रद्धालुओं के लिए गेट 4 और 5 पर लगेगी मशीन

उज्जैन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महाकालेश्वर मंदिर के विस्तार और सौंदर्यीकरण में अब मंदिर की दर्शन व्यवस्था को हाईटेक किया जा रहा है। यह काम स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत किया जाएगा। इस व्यवस्था के तहत अब प्रथम चरण में वीआईपी श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए मंदिर के गेट क्रमांक 4 और 5 पर मेट्रो स्टेशन की तरह सेंसर बैरिकेडिंग के साथ टोकन मशीन लगाई जाएगी।

इसके लिए महाकाल मंदिर में स्मार्ट सिटी सीईओ जितेंद्र सिंह, एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह, प्रशासक गणेश धाकड़, सहायक प्रशासक मूलचंद जूनवाल समेत अन्य अफसरों ने गुरुवार को मंदिर का दौरा किया। मशीन किस जगह लगाना है, यह तय किया। मशीन लगने वाले स्थान को देख दिशा निर्देश जारी किए। मंदिर में देश भर से आने वाले वीआईपी श्रद्धालुओं को अब यह टोकन महाकाल मंदिर प्रबंध समिति द्वारा दिए जाएंगे।

श्रद्धालुओं द्वारा गेट पर पहुंचकर मशीन में टोकन डालते ही सेंसर युक्त बैरिकेड्स खुल जाएगा। श्रद्धालु आसानी से महाकाल मंदिर के दर्शन कर सकेंगे। वीआईपी श्रद्धालुओं को प्रोटोकॉल के तहत प्रबंध समिति द्वारा अभी गेट नंबर 4 और 5 से 100 रुपए शुल्क लेकर प्रवेश दिया जा रहा है, लेकिन इस बीच कई ऐसे श्रद्धालु भी प्रवेश कर जाते हैं, जो प्रोटोकॉल में नहीं आते। बैरिकेडिंग मशीन के लग जाने से अब जिन श्रद्धालुओं के पास टोकन नहीं होगा, वह प्रवेश नहीं कर सकेंगे।

महाकाल मंदिर में हाईटेक मशीन के साथ-साथ अब आम श्रद्धालुओं के गेट पर हेड सेंसर मशीन भी लगेगी, जिससे रोजाना आने वाले श्रद्धालुओं की गिनती ऑटोमेटिक मंदिर में दर्ज हो जाएगी।

महाकाल मंदिर प्रशासक गणेश धाकड़ ने बताया कि गेट नंबर 4 और 5 के लिए मशीन लगाने की बात की है। जल्द ही, इसके लिए टेंडर बुलाए जाएंगे। बाद में यह सुविधा महाकाल मंदिर के सभी प्रवेश द्वार पर सुरक्षा मानकों के साथ शुरू की जाएगी। इस व्यवस्था से महाकाल मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था भी चाक चौबंद हो जाएगी।