पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मकर संक्रांति पर महाकाल के भस्म आरती के दर्शन:महाकाल के मस्तक पर लगाए तिल, अर्द्धनारिश्वर श्रंगार किया, पतंगों से सजाया नंदी हॉल व गर्भगृह

उज्जैन4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नंदी हॉल से भगवान महाकाल के दर्शन। गर्भगृह और नंदी हॉल को पतंगों से सजाया।

शुक्रवार को मकर संक्रांति के अवसर पर भगवान महाकाल को तिल चढ़ाए गए।

भस्म आरती के पहले भगवान महाकाल का श्रंगार किया गया।
भस्म आरती के पहले भगवान महाकाल का श्रंगार किया गया।

मस्तक पर पहले भांग और उस पर तिल का लेपन किया गया। भगवान को तिल के लड्‌डुओं और तिल से बनी मिठाई का भोग लगाया।

भस्म रमाने के पहले महाकाल के दर्शन।
भस्म रमाने के पहले महाकाल के दर्शन।

गले में मोतियों की माला पहनाकर शिव-पार्वती स्वरूप श्रंगार किया गया। ललाट को पीले फूलों से सजाया। और शिखर पर फूल मालाओं की जटा बनाई गई।

भस्म रमाने के बाद महाकाल के दर्शन।
भस्म रमाने के बाद महाकाल के दर्शन।

श्रंगार के बाद लाल कमल की माला भी चढ़ाई। मस्तक पर शेषनाग बना चांदी का मुकुट पहनाया। श्रंगार के बाद भस्म आरती की गई। मिष्ठान, फलों व भांग का भोग लगाया।

शक्तिपीठ मां हरसिद्धि की प्रात:कालीन आरती के दर्शन

शक्तिपीठ मां हरसिद्धि की प्रात:कालीन आरती के दर्शन।
शक्तिपीठ मां हरसिद्धि की प्रात:कालीन आरती के दर्शन।