पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तेज रफ्तार:तीसरी लहर में कोरोना की दर 15 दिन में 0.05 से बढ़कर 7.96% पहुंची

उज्जैन4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिले में मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, उज्जैन में नए 156 क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया। - Money Bhaskar
जिले में मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार, उज्जैन में नए 156 क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया।

तीसरी लहर में कोरोना की संक्रमण दर इतनी तेज है कि 15 दिनों में 0.05 से बढ़कर 7.96 तक पहुंच गई है। मरीजों का आंकड़ा 1000 के पार हो गया है, जो कि पहली और दूसरी लहर के मुकाबले ज्यादा है। पिछले पांच दिनों से ऐसे हाल हैं कि हर दिन 150 से ज्यादा मरीज पाए जा रहे हैं। रविवार को भी 221 मरीज संक्रमित पाए गए।

उज्जैन में मरीजों की संख्या बढ़कर 1078 हो गई है। इनमें से 1052 मरीज होम आइसोलेशन में हैं और 28 को कोविड अस्पताल माधवनगर व कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया है। जिनमें से 12 पीटीएस कोविड सेंटर में रखा है। उज्जैन में संक्रमण की शुरूआत 7 दिसंबर से हुई। गुजरात के सूरत से आए संक्रमण के बाद यहां पर लगातार मरीजों की संख्या बढ़ती गई।

जिले में 1 जनवरी को संक्रमण दर 0.05 पर थी जो कि बढ़कर 7.96 प्रतिशत हो गई है। कोविड विशेषज्ञों का कहना है कि 25 जनवरी से संक्रमण की रफ्तार और तेज हो सकती है तथा मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ेगी। 22 जनवरी से शुरू हो रहे वैवाहिक कार्यक्रमों के चलते लोगों की कनेक्टिविटी बढ़ेगी और ज्यादा लोग संक्रमित होंगे। कोविड-19 के नोडल अधिकारी डॉ. एचपी सोनानिया का कहना है कि लोग अवेयर नहीं हुए तो आने वाले दिनों में संक्रमण की रफ्तार और तेज हो सकती है।

हॉट स्पॉट फिर से बनने लगे हॉट स्पॉट

चिंताजनक बात यह है कि दूसरी लहर में हॉट स्पॉट रहे उज्जैन के ऋषिनगर, बहादुरगंज व बड़नगर में मरीज बढ़ते जा रहे हैं। कोविड विशेषज्ञों का कहना है कि मरीजों के आंकड़ों को देखकर पता चलता है कि पहली और दूसरी लहर के मुकाबले तीसरी लहर कहीं ज्यादा खतरनाक है।

नए मरीज नहीं पाए जाने पर 41 कंटेनमेंट एरिया से मुक्त

रविवार को जिला प्रशासन ने शहरी क्षेत्र में कोविड पॉजिटिव पाए गए 156 लोगों के घरों को एपिसेंटर घोषित करते हुए क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया है। दूसरी तरफ शहर के 41 क्षेत्रों में वर्तमान में कोई नया मरीज नहीं पाए जाने की वजह से कंटेनमेंट एरिया से मुक्त किया है। यहां पर 10 दिनों में नया केस नहीं पाया गया है।

कलेक्टर आशीष सिंह ने शहरी क्षेत्र में पाए गए कोविड संक्रमित पॉजिटिव 156 लोगों के घरों को एपिसेंटर घोषित करते हुए इन घरों से व्यावहारिक दूरी के क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया है। कंटेनमेंट एरिया के सर्विलांस के लिए दलों का गठन किया गया है। संक्रमित मरीजों के घर से बाहर आने पर कार्रवाई होगी। कंटेनमेंट एरिया में आवागमन भी पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा।

खबरें और भी हैं...