पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चाइना डोर बेचने वालों के घर तोड़ने पहुंची पुलिस:सबसे पहले चुलबुल का घर तोड़ा, जिनके यहां से जब्त की गई थी, सबके घर टूटेंगे, लिस्ट तैयार

उज्जैन5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चाइना डोर से छात्रा की मौत के बाद पुलिस और नगर निगम की टीम ने रविवार को चाइना डोर बेचने वाले अब्दुल वहाब का अतिक्रमण तोड़ दिया। चुलबुल पतंग सेंटर के नाम से थोक व खेरची में पतंग बेचने वाले अब्दुल के साथ ही उन लोगों के अतिक्रमण और घरों के अवैध हिस्से टूटेंगे जहां से पुलिस ने बीते दिनों चाइना डोर जब्त की थी।

चाइना डोर से महिदपुर के नारायण ग्राम निवासी छात्रा नेहा आंजना का शनिवार को गला कट गया था और थोड़ी ही देर में तड़प-तड़प कर उसकी मौत हो गई थी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने भी कार्रवाई के लिए कहा था। तब उज्जैन पुलिस और प्रशासन की टीम ने मिलकर तोपखाना के उन व्यापारियों की लिस्ट तैयार की जहां से चाइना डोर जब्त की गई थी।

इसके बाद सबसे पहले रविवार दोपहर में महाकाल पुलिस चुलबुल पतंग सेंटर के संचालक अब्दुल वहाब के घर पहुंची। यहां नगर निगम की टीम ने उसके मकान का अवैध हिस्सा तोड़ दिया।

दो जगह और कार्रवाई, पुलिस को बताया थोक विक्रेता का नाम –

पुलिस आज ही दो और चाइना डोर विक्रेताओं के मकान तोड़ने भी पहुंचेगी। इनमें से एक शास्त्री नगर और दूसरा छत्री चौक का व्यापारी है। जैसे ही पुलिस रविवार दोपहर तोपखाना क्षेत्र में अब्दुल वहाब का मकान तोड़ने पहुंची यहां के व्यापारियों ने उज्जैन के थोक व्यापारी का नाम भी बताया। हालांकि पुलिस ने थोक व्यापारी के यहां जांच के बाद कार्रवाई की बात कही है।

तोपखाना में सर्चिंग

कार्रवाई के साथ ही पुलिस ने तोपखाना की दुकानों में सर्चिंग की। यहां दुकानें खुलवाकर पुलिस ने चाइनिज मांजे का पता किया। सबसे पहले पुलिस तोपखाना के प्रमुख व्यापारी फारूक पतंग सेंटर के यहां पहुंची। पुलिस ने दुकान मालिक से शटर खुलवाकर दुकान की जांच की। इसके अलावा अन्य व्यापारियों के यहां भी जांच की गई।

कार्रवाई जारी रहेगी

सीएसपी पल्लवी शुक्ला ने बताया कि जहां से भी चाइना डोर जब्त की गई थी। सब पर कार्रवाई की जाएगी।

नेहा आंजना मामले में एनएसए की कार्रवाई की तैयारी

चाइनिज डोर कौन उड़ा रहा था, कौन बेच रहा था। यह पता लगाएंगे। जिसके यहां से भी चाइनिज मांजा बेचा गया है उस पर एनएसए की कार्रवाई करेंगे और ऐसे सभी लोगों के मकान तोड़ने की कार्रवाई की जाएगी।

रवींद्र वर्मा, एएसपी, उज्जैन