पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57200.23-0.13 %
  • NIFTY17101.95-0.05 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47875-1.15 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61247-2.76 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Booking Of September 11 Is Complete In 4 Hours, Booking Has Started For All Days Of The Month Of September.

महाकाल : भस्म आरती की ऑनलाइन बुकिंग का पहला दिन:4 घंटे में 11 सितंबर की बुकिंग फुल, सितंबर माह के सभी दिनों के लिए बुकिंग हुई शुरू

उज्जैन5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक विश्व प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर में होने वाली भस्म आरती के लिए डेढ़ वर्षों से इंतजार कर रहे भक्तों के लिए मंगलवार से भस्म आरती के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू हुई। जिसमें 350 श्रद्धालु ने महज 5 घंटे के अंतराल में ही बुकिंग करवा ली। जिसके बाद ऑनलाइन परमिशन को बंद कर दिया गया। आज से प्रदेश भर के भक्तों के लिए आज से ऑनलाइन की लिंक खोल दी है। बुकिंग 30 सितंबर तक की खोली गई है, इसमें से 12 सितंबर के लिए 300 से अधिक बुकिंग ऑनलाइन हो चुकी है।

शुक्रवार को महाकाल मंदिर प्रबंध समिति की बृहसप्ति भवन में आयोजित बैठक में भस्म आरती के लिए प्रवेश को अनुमति दी गई थी। तय किया गया था कि मंदिर की वेबसाइट व एप के माध्यम से ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी जाएगी। इसके लिए 7 सितंबर का दिन तय किया गया था, जबकि भस्म आरती में भक्तों को 11 सितंबर से प्रवेश दिया जाना तय किया गया था।

महाकाल मंदिर के सहायक प्रशासक मूलचंद जूनवाल ने बताया आज से शुरू हुई ऑनलाइन परमिशन में 350 भक्तों के लिए लिंक को खोला गया था जो महज 4 घंटे में ही फुल हो गई। प्रतिदिन एक हजार श्रद्धालुओं को अनुमति दी जाना है। 150 श्रद्धालुओं की ऑफलाइन बुकिंग की जाएगी जबकि शेष 500 को प्रोटोकॉल के माध्यम से अनुमति दी जाएगी। भस्म आरती में शामिल होने वाले भक्तों को कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए दर्शन करने की अनुमति दी जायेगी।

11 सितंबर से शुरू हो रही भस्म आरती के नियम
एक वर्ष पांच माह बाद शुरू हो रही भस्म आरती में श्रद्धालु का प्रवेश के लिए नए नियम बनाए गए हैं। इसमें हरिओम जल चढ़ाने के लिए भी श्रद्धालुओं को अनुमति नहीं दी जाएगी। भस्म आरती के दौरान गर्भ गृह और नंदी हाल में श्रद्धालुओं का प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। सिर्फ कार्तिकेय मंडपम और गणेश मंडपम में ही श्रद्धालुओं को बैठने की अनुमति रहेगी।

खबरें और भी हैं...