पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57276.94-1 %
  • NIFTY17110.15-0.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48432-0.52 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62988-1.1 %

नसबंदी कैंप में दिखी भारी अव्यवस्था:सीधी जिले में खुली ऑटो में भरकर जाती दिखीं महिलाएं, रात 11 बजे तक चला ऑपरेशन

सीधी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑटो में लटककर आतीं महिलाएं। - Money Bhaskar
ऑटो में लटककर आतीं महिलाएं।

सीधी जिले के आदिवासी अंचल भुईमाड़ में महिला नसबंदी कैंप में अव्यवस्था दिखी। दिन ढलने के पहले होने वाला ऑपरेशन, शाम 8 बजे से शुरू होकर रात 11 बजे तक ऑपरेशन चला। यहा तक की मरीज ऑटो से बैठकर जाते दिखे। तो ठंड में ओढ़ने तक के लिए नहीं मिला।

पूरा मामला सीधी जिले के आदिवासी विकासखंड कुशमी प्रथामिक स्वास्थ्य केन्द्र भुईमाड़ मे महिला नसबंदी कैंप का है। जहां भारी अव्यवस्था देखने को मिली। एक ओर जहां सरकार की मंशा होती है कि आदिवासी बाहुल्य इलाकों में बेहतर से बेहतर सुविधाएं मुहैया हो, लेकिन सीधी जिले के आदिवासी विकासखंड कुशमी के भुईमाड़ क्षेत्र में सरकार के मंशा के विपरीत कार्य किया जा रहा है।

आपको बता दें कि महिला नसबंदी कैंप का आयोजन किया गया था, जिसमें 20 लोगों का ऑपरेशन किया गया है। जहां दिन ढलने के पहले खत्म हो जाने वाले ऑपरेशन को दिन ढलने के बाद शाम को 8 बजे के काफी देर बाद शुरू होकर रात 11 बजे तक ऑपरेशन चला।

ठंड के मौसम मरीजों को रात भर यूं ही जमीन पर गद्दा के ऊपर दरी बिछाकर लेटा दिया गया था। जबकि ग्रामीण अंचल होने के साथ ही प्रथामिक स्वास्थ्य केन्द्र भुईमाड़ जो ऑपरेशन केन्द्र बनाया गया था। वहां से देवरी बांध महज 200 मीटर की दूरी पर स्थित है, जिसके कारण ठंड और भी ज्यादा थी, लेकिन मरीजों को ढकने के लिए कुछ भी नहीं मिला था।

जब इस पूरे मामले के लिए सीधी जिले के सीएमएचओ डॉ. गुप्ता से संपर्क किया गया तो उन्होंने कार्रवाई करने के निर्देश दिए वह संबंधित अधिकारियो को पत्र लिखकर सूचित किया।

खबरें और भी हैं...