पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57276.94-1 %
  • NIFTY17110.15-0.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48432-0.52 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62988-1.1 %

पुलिस ने होटल में दी दबिश, 2 धरे:सीधी जिले में मीटर वाचक नियुक्ति के नाम पर वसूल रहे थे राशि

सीधी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हाेटल में दबिश देती पुलिस। - Money Bhaskar
हाेटल में दबिश देती पुलिस।

सीधी शहर के हाॅस्पिटल चौराहे के पास स्थित एक प्रतिष्ठित होटल में मीटर वाचक भर्ती के नाम पर अवैध वसूली करते दो युवकों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्त में लिया है।

बताया गया कि इन युवकों द्वारा बीटेक लिमिटेड कंपनी बैंगलोर के नाम पर जिले में काम कर रहे करीब 180 मीटर वाचकों से संपर्क कर उन्हें अपनी कंपनी में काम दिलानें के नाम पर उनसे 10-10 हजार रुपए बतौर सुरक्षा निधि जमा कराई जा रही थी। लेकिन उक्त राशि वापस करने की कोई शर्त नहीं शामिल थी। विगत दो दिनों से चल रहे इस खेल की जानकारी जब शहर के मीटरवाचकों को लगी तो उनके द्वारा मामले की शिकायत सिटी कोतवाली में दर्ज कराई गई।

मीटर वाचक संघ की ओर से राकेश सिंह द्वारा दिए गए शिकायती पत्र के आधार पर कोतवाली पुलिस ने शहर स्थित होटल में ठहरे युवकों को दबोच लिया है। बताया गया है कि बीटेक लिमिटेड कंपनी बैंगलोर के उक्त कर्मचारियों द्वारा प्रति मीटर वाचक 10 हजार रुपए कंपनी में जमा करनें को कहा जा रहा था। इतना ही नहीं जिनके द्वारा उक्त राशि जमा करने में असमर्थता जाहिर की गई उन्हें कार्य से पृथक करने की धमकी भी दी गई है।

शहर के एक निजी होटल में बैठकर मीटर वाचकों की भर्ती के नाम पर प्रति मीटर वाचक 10 हजार वसूलने की सूचना पर पहुंची कोतवाली पुलिस की टीम को देख हड़कंप मच गया। पुलिस ने उक्त दोनों व्यक्तियों को समस्त कागजात सहित अपने कब्जे में ले लिया है। इस संबंध की शिकायत मीटर वाचक संघ जिला इकाई सीधी में सिटी कोतवाली के साथ-साथ अधीक्षण अभियंता मप्र पूर्व क्षेत्र विधुत वितरण कंपनी एवं कार्यपालन अभियंता सीधी को भी दी है।

कोतवाली पुलिस बीटेक लिमिटेड कंपनी बैंगलोर के उक्त कर्मचारियों को हिरासत में लेते हुए पूछताछ शुरू की है। कंपनी कर्मचारी द्वारा मीटर वाचकों से बतौर सुरक्षा निधि की राशि मांगे जाने से मीटर वाचकों में आक्रोश देखने को मिला है। बताया गया है कि यह कर्मचारी बीते दो-तीन दिनों से फोन कर के मीटर वाचकों से अवैध वसूली में जुटे हुए हैं।

फोन से संपर्क कर मांगी जा रही थी राशि

शिकायतकर्ता मीटर वाचक संघ अध्यक्ष राकेश सिंह ने बताया कि बीटेक लिमिटेड कंपनी बैंगलोर के सुपरवाइजर के द्वारा मोबाईल फोन के माध्यम से शहर में पूर्व से कार्यरत मीटर वाचकों से संपर्क कर 10-10 हजार रुपए बतौर सुरक्षा निधि मांगी जा रही थी।

जब इस संबंध में विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से जानकारी जुटानें का प्रयास किया गया तो इस तरह से कोई सुरक्षा निधि जमा करनें की बात से सभी ने हाथ खडे़ कर लिए। जैसे ही इस बात की पुष्टि मीटर वाचकों को हुई वो आक्रोशित हो गए। मामले की सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस दो व्यक्तियों को हिरासत में ले लिया है। हालांकि समाचार लिखे जाने तक पुलिस द्वारा कोई मामला पंजीबद्ध नहीं किया गया था।

वहीं इस संबंध में जब सिटी कोतवाली थाना प्रभारी हितेन्द्रनाथ शर्मा से जानकारी चाही गई तो उन्होंने बताया कि कंपनी के कर्मचारियों द्वारा नियुक्ति के नाम पर मीटर वाचकों से राशि वसूलने की बात सामने आई है, लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

खबरें और भी हैं...