पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Shahdol
  • The Road Is Being Built By The Contractor From The Soil Coming Out Of The Pond Deepening, The Villagers Said Because Of The Kinship Of The Minister In Charge, They Are Doing Arbitrariness

सड़क निर्माण से किसानों और मजदूरों को नुकसान:तालाब गहरीकरण से निकलने वाली मिट्‌टी से ठेकेदार बना रहा रोड, ग्रामीण बोले- प्रभारी मंत्री की रिश्तेदारी इसलिए कर रहे मनमानी

शहडोलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहडोल जिला मुख्यालय से 6 किलोमीटर दूरी पर पचगांव मुख्य मार्ग से पोंडा नाला तक सिंहपुर रोड को जोड़ने के लिए सड़क निर्माण किया जा रहा है। जिसकी लागत 6.30 करोड़ रुपए है। यह सड़क अल्ट्राटेक सीमेंट लिमिटेड विचारपुर कोल माइंस यूनिट से कोयले के परिवहन के लिए बना रही है। इसमें ठेकेदार शिवकुमार पटेल के काम में अनियमितता दिखाई दे रही है।

सड़क निर्माण के लिए ठेकेदार तालाब गहरीकरण में निकलने वाली मिट्‌टी का उपयोग कर रहा है। जबकि इस तालाब की मिट्‌टी किसानों के खेत में डाली जानी है। तालाब के गहरीकरण का काम भी मशीनों से हो रहा है, जबकि यह काम अमृत सरोवर योजना के तहत मजदूरों और जन सहयोग से करवाना था। ठेकेदार के इस काम से किसानों सहित मजदूरों का भी नुकसान हो रहा है।

भास्कर की ग्राउंड रिपोर्ट में ये आया सामने

भास्कर की ग्राउंड रिपोर्टिंग सामने आया कि मनरेगा योजना के तहत तालाब गहरीकरण के कार्य में मजदूर नहीं, बल्कि ठेकेदार शिवकुमार पटेल की 220 पोकलेन मशीन काम कर रही है। इतना ही नहीं तालाब गहरीकरण से निकली मिट्टी को भी ठेकेदार अपने उपयोग में लेकर अल्ट्राटेक से अनुबंधित सड़क निर्माण में कर रहा है। ठेकेदार शिवकुमार जहां अल्ट्राटेक से हुए अनुबंधित नियम को ठेंगा दिखा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर शासन-प्रशासन को प्राप्त होने वाले राजस्व पर भी हाथ साफ कर रहे हैं।

ठेकेदार की प्रभारी मंत्री से रिश्तेदारी इसलिए अनियमितता

ग्रामीणों ने बताया कि इस तालाब के गहरीकरण से न तो हमें किसी प्रकार का रोजगार मिला है और ना ही यहां से निकलने वाली मिट्टी हमें अपने खेतों को उपजाऊ बनाने के लिए मिली। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि प्रभारी मंत्री से ठेकेदार की रिश्तेदारी होने के कारण उसे अपनी ठेकेदारी चमकाने और मिट्टी का व्यावसायिक उपयोग करने की खुली छूट दी गई है।

ठेकेदार बोला- ग्रामीणों को हटाओ

इस संबंध में ठेकेदार शिवकुमार पटेल ने भास्कर संवाददाता से फोन पर कहा कि ग्रामीणों को कहिए वह मौके से हट जाएं। आपकी ऑफिस कहां है, मैं आपको आकर मिलता हूं।

प्रभारी मंत्री बोले- मैं क्यों वर्जन दूं

प्रभारी मंत्री रामखेलवान पटेल ने कहा कि कागज दिखावा लीजिए, पता कर लीजिए, किसका काम है। इस मामले में मुझे बीच में क्यों डाल रहे हो, मैं क्या वर्जन दूं।

ठेकेदार को रोकेंगे भुगतान

वहीं विचारपुर कोल माइन्स के प्रोजेक्ट हेड सैय्यद कादरी ने कहा कि आपके द्वारा जानकारी संज्ञान में लाई गई है, अगर ठेकेदार अनुबंध के विपरीत कार्य कर रहा है, तो उसका भुगतान रोक दिया जाएगा।

जांच कर की जाएगी कार्रवाई

शहडोल जिला पंचायत एडिशनल सीईओ निर्देशक शर्मा ने कहा कि जन सहयोग से गहरीकरण किया जा रहा है। तालाब से उत्खनित मिट्टी खेती के लिए काफी उपजाऊ मानी जाती है। इसका उपयोग करने की छूट स्थानीय किसानों को है। रही बात व्यवसायिक रूप से उपयोग करने और किसानों को उपयोग करने को लेकर भ्रामक जानकारी दिए जाने अथवा रोकने की, तो सीईओ साहब से चर्चा कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

सड़क पर पड़ी तालाब गहरीकरण की मिट्‌टी।
सड़क पर पड़ी तालाब गहरीकरण की मिट्‌टी।
रात में पोकलेन मशीन से हो रहा तालाब गहरीकरण।
रात में पोकलेन मशीन से हो रहा तालाब गहरीकरण।
खबरें और भी हैं...