पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Seoni
  • Patients Suffering From Problems Like Vomiting, Diarrhea Become Double, This Doctor's Advice To Be Careful

सिवनी में मौसम बदलाव से बढ़ी बीमारियां:उल्ट-दस्त जैसी समस्याओं के मरीज हुए डबल, सावधानी बरतने डॉक्टर की ये एडवाइज

सिवनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अचानक मौसम में हो रहे परिवर्तन से लोग उल्टी, दस्त का शिकार हो रहे हैं। तेज धूप के बाद अचानक हुई बारिश ने जहां कुछ देर के लिए ठंडक का अहसास दिलाया, तो वहीं तेज धूप से बढ़ी उमस से लोगों के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ा।

उल्टी दस्त के से परेशान लोग

बीते दिवस बारिश के बाद तेज धूप तपने से उमस भी बढ़ी। जिसके कारण लोग उल्टी दस्त से के करण परेशान हो गए और शासकीय अस्पताल से लेकर प्राइवेट क्लीनिकों में मरीजों की संख्या बढ़ गई है। पहले 25 से 30 मरीज अस्पताल आते थे,अब अब आंकड़ा 50 के पार हो गया है।जिनमे डिहाइड्रेशन, उल्टी-दस्त व लू से बीमारों की संख्या अधिक है।

दिन में लग रही लू

मौसम में परिवर्तन के साथ तेज धूप में लोग निकल रहे हैं जिससे लू लगने के कारण लोगो को जी मचलाना, उल्टी, दस्त, पेशाब में जलन, हाथ पैरों में दर्द, सिरदर्द, चक्कर आने जैसी समस्या हो रही है।

डॉक्टर की एडवाइज

सिवनी के डॉक्टरों का कहना है कि बढ़ती गर्मी और लू की चपेट में आने से बचने के लिये यदि प्यास नहीं भी लगी हो, तो भी पर्याप्त मात्रा में पानी पीते रहें। नींबू पानी, छाछ, लस्सी, जूस और ओआरएस का घोल शरीर को पानी की कमी से बचाए रखता है। तरबूज, संतरा, अंगूर, अनानास, खीरा आदि अधिक पानी की मात्रा वाले फल और सब्जियां खाएं। घर से निकलते वक्त पानी की बॉटल साथ रखें।

सीधी धूप से बचे

घर से बाहर निकलते वक्त अपने सिर को टोपी, दुपट्टे, छाता, गमछा या किसी अन्य कपड़े से ढक कर ही निकलें। सीधी धूप में आने से बचें। अगर बाहर निकलना आवश्यक न हो, तो घर में ही रहें और अपने आवश्यक काम हो सके तो सुबह और शाम करें। टीवी,रेडियो,समाचार-पत्र आदि के माध्यम से तापमान पर नजर रखें।

घर में सीधे धूप आने से रोके

घर के ऐसे दरवाजे और खिड़कियां, जो सीधे धूप के प्रभाव में रहते हैं, उन्हें बंद रखें या पर्दें डालकर रखें। इन्हें रात में शुद्ध हवा के लिए खोलें।

अन्य सावधानी

बासी भोजन करने से बचें। अधिकतम पानी का सेवन सर्वोत्तम है। अगर एक घंटे से अधिक समस्या रहती है, तो चिकित्सकीय सलाह लें।

खबरें और भी हैं...