पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Satna
  • UP BJP Leader Of Satna Threatened Self immolation By Writing A Letter To The CM Of MP, Now Police Is Looking For A Leader Angry With Naraini MLA

सतना के नाराज भाजपा नेता ने दी आत्मदाह की धमकी:यूपी-एमपी के सीएम को लिखा पत्र, नाराज भाजपा नेता को ढूंढ पुलिस और कार्यकर्ताओं ने दी समझाइश

सतना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सतना के एक भाजपा नेता ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिख कर सतना के भाजपा कार्यालय में आत्मदाह की धमकी दे दी। जिला कार्यसमिति के सदस्य की इस धमकी के बाद न केवल भाजपाइयों बल्कि पुलिस - प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। भाजपा कार्यालय में पहरा लगा दिया गया और नेता की तलाश शुरू कर दी गई।

भाजपा के जिला कार्य समिति सदस्य, पूर्व उपाध्यक्ष और मझगवां मंडल के चार बार अध्यक्ष रह चुके श्रीकृष्ण मिश्रा मालिक का गुस्सा अपने ही दल भाजपा के नरैनी यूपी से विधायक राजकरण कबीर पर भड़का है। मिश्रा बस व्यवसायी भी हैं और मिश्रा बंधु बस सर्विस नाम से उनकी कई बस चलती हैं। गत 8 दिसंबर को बरौंधा क्षेत्र में नरैनी विधायक कबीर की गाड़ी मिश्रा की बस से टकरा गई थी। बाद में एमपी के बरौंधा में हुई इस घटना पर नरैनी विधायक ने यूपी के फतेहगंज थाना में एफआईआर करा दी। जिसके बाद यूपी पुलिस मिश्रा की बस जब्त कर ले गई।

मिश्रा का आरोप है कि विधायक और उनके लोगों ने ड्राइवर, कंडक्टर से 7 हजार रुपए और मोबाइल फोन भी लूट लिए थे। मिश्रा के मुताबिक उन्होंने सांसद, भाजपा जिलाध्यक्ष, कलेक्टर, एसपी को इस घटना से अवगत कराया था लेकिन उनकी बस नहीं छूटी। इसलिए मजबूर हो कर उन्हें आत्मदाह का निर्णय लेना पड़ा हैं।

तलाश में लगी पुलिस, भाजपा कार्यालय में लग गया पहरा

भाजपा नेता श्री कृष्ण मिश्रा का धमकी भरा पत्र दोनों राज्यों के सीएम को तो भेजा ही गया। सतना के सांसद, भाजपा अध्यक्ष और कलेक्टर- एसपी को भी मिला। पत्र में मिश्रा ने 15 जनवरी को शाम 4 बजे भाजपा कार्यालय में आत्मदाह करने की धमकी दी थी। एसपी धर्मवीर सिंह ने तलाश शुरू करा दी और भाजपा कार्यालय में पुलिसिया पहरा लगवा दिया।

कार्यालय में पहरा
कार्यालय में पहरा

घंटों की तलाश के बाद मिश्रा मिले तो उन्हें सीएसपी ऑफिस लाया गया। एसपी भी पहुंचे और भाजपा जिलाध्यक्ष भी आए और फिर समझाइश का दौर भी शुरू हो गया। समझाइश और आश्वासन के बाद मिश्रा ने आत्मदाह का इरादा बदल दिया।

खबरें और भी हैं...