पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Satna
  • No FIR Even On The Second Day, The Audio Of The Minister Of State Went Viral, Said If I Investigate, I Will Hang It Upside Down

मंत्री ने अफसर को धमकाया- उल्टा लटका दूंगा...:सतना में अफसर बोला-मुझे पीटा, अपहरण की कोशिश की; नहीं लिखी FIR

सतना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सतना के अमरपाटन में खाद्य सुरक्षा अधिकारी के साथ मारपीट और अपहरण की कोशिश का मामला सामने आया है। अफसर का आरोप है कि मुझे ढाबा संचालक और उसके साथियों ने मिलकर पीटा। मुझे अगवा करने की कोशिश की। मैंने थाने में शिकायत की तो मुझे थाने में 5 घंटे बैठाकर रखा लेकिन FIR दर्ज नहीं की है। इधर, अमरपाटन से विधायक और पंचायत राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल के दो ऑडियो भी सामने आए हैं। इसमें वे खाद्य सुरक्षा अधिकारी को उल्टा लटकाने की धमकी दे रहे हैं। साथ ही मिलावटखोरों पर एक्शन न लेने की हिदायत दे रहे हैं। हालांकि दैनिक भास्कर इन ऑडियो की पुष्टि नहीं करता हैं। पढ़िए पूरा मामला

जिले में अमरपाटन में पदस्थ खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीरज विश्वकर्मा ने बताया कि मैंने दो व्यापारियों के यहां सैंपलिंग की थी। व्यापारियों ने कार्रवाई न करने के लिए रिश्वत की पेशकश की थी। मैंने अस्वीकार कर दिया था। इसके बाद राज्य मंत्री रामखेलावन पटेल ने फोन पर मुझे धमकाया। मैंने उनके ऑडियो सुरक्षित रख लिए थे। मंत्री और खाद्य सुरक्षा अधिकारी के बीच बातचीत के दो ऑडियो वायरल हो रहे हैं।

पढ़िए ऑडियो में क्या हुई दोनों के बीच बातचीत
पहले ऑडियो में राज्य मंत्री रामखेलावन खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीरज विश्वकर्मा से कह रहे हैं कि उनके क्षेत्र में जांच-पड़ताल की कार्रवाई की गई तो उल्टा लटका देंगे। दूसरे ऑडियो में वे कह रहे हैं कि जिले भर में कहीं भी काम करो, लेकिन रामनगर-अमरपाटन, मुकुंदपुर में नहीं। बहुत शिकायतें मिल रही हैं। इस पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने कहा कि वह तो एक साल से मुकुंदपुर गए ही नहीं। इस पर मंत्री ने कहा-नहीं तो जिस दिन मैं भोपाल गया उस दिन लिख कर दे दूंगा तो चले जाओगे झाबुआ- मंदसौर तो कर लेना जांच। हालांकि वायरल ऑडियो में मंत्री की आवाज को लेकर दैनिक भास्कर पुष्टि नहीं करता है।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीरज विश्वकर्मा।
खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीरज विश्वकर्मा।

व्यापारियों ने अफसर पर लगाया वसूली का आरोप
इन दोनों ऑडियो के वायरल होने के बाद एफएसओ के साथ मारपीट और अपहरण के इस मामले को रिश्वत मांगने से जोड़ कर बताया जा रहा है। व्यापारियों का आरोप है कि एफएसओ नीरज विश्वकर्मा उनसे पैसे वसूलते हैं, जिसके कारण व्यापारी नाराज थे और प्रदर्शन कर रहे थे। व्यापारियों ने राज्य मंत्री से एफएसओ की शिकायत की थी। उससे बचने अब एफएसओ ऑडियो वायरल करवा रहे हैं।

मंत्री बोले- समझाइश जरूर दी थी
पंचायत राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल का अपने वायरल ऑडियो पर कहना है कि उन्हें ऐसा कुछ याद नहीं है। एफएसओ द्वेषवश ऐसा कर रहे हैं। उनकी शिकायतें व्यापारियों ने की थी तो मैंने एफएसओ को समझाइश जरूर दी थी।

मारपीट के बाद कार्रवाई के लिए थाने में बैठे नीरज विश्वकर्मा।
मारपीट के बाद कार्रवाई के लिए थाने में बैठे नीरज विश्वकर्मा।

अब पढ़िए मारपीट-अपहरण की पूरी कहानी
अफसर ने कहा- मुझे पीटा, अगवा करने की कोशिश

नीरज विश्वकर्मा ने बताया कि मैं मंगलवार को सरकारी काम से रामनगर क्षेत्र का दौरा कर अपने सहयोगी शाहिद के साथ लौट रहा था। बाइपास स्थित गुंडा स्वामी उर्फ गौतम के स्वामी ढाबा पर चाय पीने के लिए हम रूके। उस वक्त वहां तीर्थ यात्री भोजन कर रहे थे। मैंने कर्मचारी से ढाबा संचालक के बारे में पूछा। वह मुझे उसके पास ले गया। ढाबा संचालक से मैंने हाल पूछा तो वह भड़क गया। वह मुझसे मारपीट करने लगा। मुझे गाली दी। ढाबे के और कर्मचारी भी मुझे पीट रहे थे। मारपीट के बाद उन्होंने हम दोनों को एक गाड़ी में जबरन बैठा लिया। वे हमें कहीं ले जाने लगे। प्रतापगढ़ी जुड़मनिया के पास गाड़ी कीचड़ में फंस गई तो हम दोनों कूदकर भाग निकले। कुछ दूर ही ग्रामीण बैठे थे। उनके पास पहुंचकर हमने घटना बताई। इसके बाद हमने डायल 100 को सूचना दी। सूचना मिलने पर डायल 100 की टीम हमें अमरपाटन थाना ले आई। मैंने टीआई संदीप भारती को घटना की मौखिक और लिखित जानकारी दी। थानेदार ने मुझे 5 घंटे थाने में बैठाकर रखा लेकिन FIR दर्ज नहीं की।

आरोपियों से बचने के बाद ग्रामीणों के साथ खाद्य अधिकारी नीरज विश्वकर्मा।
आरोपियों से बचने के बाद ग्रामीणों के साथ खाद्य अधिकारी नीरज विश्वकर्मा।

आरोपियों ने थाने में आकर धमकाया
जिस वक्त मैं शिकायत दर्ज कराने थाना प्रभारी के कक्ष में बैठा हुआ था, उसी वक्त आरोपी ढाबा संचालक गुंडा स्वामी भी वहां आया था। उसने मुझे वहां भी धमकाया। इसके बाद थाना प्रभारी भी द्विपक्षीय शिकायत की बात करने लगे। बाद में मुझसे आवेदन लेकर थाने से चलता कर दिया। मैंने घटना की जानकारी अपने प्रादेशिक संगठन को दे दी है। संगठन ने इस मामले में कार्रवाई की मांग की है।

थाने में पुलिस ने खाद्य अधिकारी से आवेदन लेकर लौटा दिया।
थाने में पुलिस ने खाद्य अधिकारी से आवेदन लेकर लौटा दिया।

पूर्व सरपंच की हत्या की साजिश के आरोप में जा चुके जेल
रामखेलावन पटेल 2000-01 में अमरपाटन विधानसभा के चोरखरी ग्राम पंचायत के पूर्व सरपंच वैद्यनाथ पटेल की हत्या की साजिश के आरोप में जेल जा चुके हैं। हालांकि, बाद में गवाहों के मुकरने की वजह से कोर्ट ने इस केस में उन्हें बरी कर दिया था। जेल में रसूख दिखाने पर कैदियों ने उनकी जमकर पिटाई भी कर दी थी। तब वह बहुजन समाज पार्टी से जुड़े थे।

खबरें और भी हैं...