पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Satna
  • Land Mafia Plating And Built A Culvert On The Payaswini River, Bulldozers Demolished Illegal Construction

चित्रकूट में नदी पर कब्जा:भू-माफिया ने प्लाटिंग कर पयस्विनी नदी पर बना दी पुलिया, बुलडोजर ने ढहाया अवैध निर्माण

सतना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हमेशा से भू-माफिया के निशाने पर रही धार्मिक नगरी चित्रकूट में नदी पर कब्जा कर अवैध निर्माण करने का एक और मामला सामने आया है। पयस्विनी का उद्गम स्थल ब्रह्मकुंड की तलाश की कवायदों के बीच माफिया ने पयस्विनी पर पुलिया का निर्माण कर डाला। हालांकि कलेक्टर के निर्देश पर नगर पंचायत का अमला पुलिया ध्वस्त करने पहुंचा है।

बता दें कि चित्रकूट के कामता हलके में पयस्विनी नदी पर अवैध रूप से सीमेंट कांक्रीट की पुलिया का निर्माण कर लिया गया है। यह पुलिया इसी पटवारी हलके की आराजी नंबर 1059 और 1061 पर प्लाटिंग के लिए बनाई गई है।

शनिवार की सुबह प्रशासनिक शह पर किए गए भू माफिया के इस कारनामें का पर्दाफाश हुआ तो खलबली मच गई। कलेक्टर अनुराग वर्मा ने चित्रकूट नगर पंचायत के प्रभारी सीएमओ ऋषि नारायण सिंह को मशीनरी ले जा कर तत्काल नदी पर बनी पुलिया ध्वस्त करने के निर्देश दे दिए।

जिसके बाद नगर पंचायत की टीम ने जेसीबी मशीनों और मजदूरों की मदद से पुलिया को तोड़ना-फोड़ना शुरू कर दिया। प्रभारी सीएमओ व तहसीलदार ऋषि नारायण सिंह के मुताबिक यह काम प्लाटिंग के लिए किया गया था। पुलिया तोड़ कर नाले को और गहरा कराया जा रहा है। जो भी इसमे संलिप्त हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

खेल में पटवारी की बड़ी भूमिका

चित्रकूट में पयस्विनी नदी पर कब्जा कर पुलिया बना लिए जाने के इस खेल में सामने आ रहे नामों में एक नाम यहां पदस्थ रह चुके पटवारी भोला सिंह का भी है। चर्चा गर्म है कि असल खिलाड़ी भी यही पटवारी ही है। इसके अलावा शिव शरण नत्थू व हरिश्चंद केशरवानी उर्फ लाला भी इसमें शामिल हैं। पटवारी का साथ होने के कारण प्रशासन व राजस्व अमले का सपोर्ट भी इन्हें मिलता रहा है। इस मामले में क्षेत्र के प्रशासनिक अधिकारियों की भूमिका पर भी बड़े सवाल उठ खड़े हुए हैं।

खबरें और भी हैं...