पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

टीकमगढ़ में पहली बार पतंग महोत्सव:कड़कड़ाती ठंड में ढोंगा ग्राउंड पर बच्चों के साथ मम्मी-पापा हुए शामिल, चाइनीज मांजे से बनाई दूरी

टीकमगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मकर संक्रांति के उपलक्ष में आज ढोंगा ग्राउंड पर पतंग महोत्सव मनाया गया। शहर में पहली बार आयोजित पतंग महोत्सव में बड़ी संख्या में शहरवासी पहुंचे। पतंगबाजी में चाइनीज मांजे का इस्तेमाल नहीं किया गया।

कार्यक्रम में बच्चों ने पतंगबाजी का जमकर लुत्फ उठाया। महोत्सव में मुख्य अतिथि यूथ कांग्रेस प्रदेश सचिव शाश्वत सिंह बुंदेला, समाजसेविका रजनी जैसवाल, डॉ सुमित उपाध्याय उपस्थित रहे।

पतंगबाजी का लुत्फ उठाते लोग।
पतंगबाजी का लुत्फ उठाते लोग।

कार्यक्रम के आयोजक यूथ कांग्रेस जिला अध्यक्ष देवेंद्र भास्कर ने बताया कि मकर संक्रांति पर्व को खिचड़ी, तिल, गुड़ आदि से मनाते हुए प्राचीन परंपरा के अंतर्गत पतंग जरूर उड़ाना चाहिए। इससे न केवल हम अपनी संस्कृति से जुड़े रहेंगे बल्कि पतंग उड़ाने से हमारा शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य भी बना रहता है।

कार्यक्रम में एंट्री पूरी तरह से निःशुल्क थी। सभी ने मिलकर पतंग महोत्सव में कोविड-19 का पालन करते हुए पतंग उड़ाई और मकर संक्रांति के पावन पर्व की शुभकामनाएं भी दी। शहर में पहली बार मकर संक्रांति पर आयोजित पतंग महोत्सव की लोगों ने जमकर तारीफ की।

लकी ड्रा से बांटे गए पुरस्कार

कार्यक्रम में लकी ड्रॉ से पुरस्कार वितरण किए गए। जिसमें देव जैसवाल,अनुकूल कड़ा,शानरंश सोनी को पुरस्कार मिले।

खबरें और भी हैं...