पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • After Ending The Illegal Relationship In Sagar, The Brother in law Got Married, In Anger, The Sister in law Left The House, Had Conspired For 6 Months To Kill

बॉयफ्रेंड के साथ भाभी ने किया था देवर का कत्ल:सागर में अवैध रिश्ता खत्म कर देवर ने रचाई शादी तो गुस्से में भाभी ने छोड़ा था घर, 6 माह साजिश रच की थी हत्या

सागर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में हत्या की आरोपी भाभी राजकुमारी और उसका प्रेमी रमेश।

सागर के सुरखी थाना क्षेत्र के ग्राम हीरापुर में हुए अंधे कत्ल का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। हत्या की आरोपी मृतक की भाभी और उसका प्रेमी निकला है। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल लिया है। पुलिस के अनुसार ग्राम हीरापुर में 7-8 अगस्त की रात मृतक कंछेदी पुत्र तखतसिंह लोधी उम्र 30 साल का लहूलुहान शव उसके ही घर में मिला था। मृतक की गला रेतकर हत्या की गई थी। वारदात के समय मृतक कंछेदी घर में अकेला था।

मामले में सुरखी थाना पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज किया और जांच शुरू की। सुरखी थाना प्रभारी मीनेश भदौरिया ने बताया कि जांच के दौरान मिले साक्ष्यों के आधार पर मृतक की भाभी राजकुमारी उर्फ सोम्या लोधी को हिरासत में लिया गया। थाने लाकर पूछताछ की तो पहले उसने गुमराह किया। लेकिन सख्ती से पूछताछ की गई तो वह टूट गई और हत्या करना कबूल की। उसने बताया कि अपने प्रेमी रमेश पुत्र गोवर्धन अहिरवार उम्र 27 साल निवासी धर्माश्री सागर के साथ मिलकर देवर कंछेदी की हत्या की थी। नाम सामने आते ही पुलिस ने आरोपी रमेश को भी गिरफ्तार कर लिया।
अवैध रिश्ता तोड़ा तो भाभी ने कर दी थी देवर की हत्या
पुलिस के अनुसार मृतक देवर कंछेदी लोधी और आरोपी उसकी भाभी राजकुमारी लोधी के बीच अवैध संबंध थे। कंछेदी ने उसे जीवन भर साथ रखने की बात कही थी। लेकिन कुछ समय पहले कंछेदी ने शादी कर ली और भाभी राजकुमारी से संबंध तोड़ लिए। वह भाभी से न तो मिलता था और न ही कोई संबंध रखता था। जिसको को लेकर आरोपी भाभी राजकुमारी परेशान थी।

गुस्से में आकर उसने कंछेदी से बदला देने के लिए करीब 6 माह पहले घर छोड़ दिया। वह घर छोड़कर सागर चली गई। जहां ईंट भट्‌टे पर काम करने लगी। यहीं उसकी पहचान आरोपी रमेश अहिरवार से हुई। दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ी और प्यार हो गया। इसी बीच आरोपी राजकुमारी ने अपने प्रेमी रमेश को कंछेदी से बदला लेने की बात कही। जिसके बाद से दोनों देवर कंछेदी की हत्या करने का मौका तलाश रहे थे।
पत्नी गई मायके, कंछेदी को घर में अकेला देख रेत दिया था गला
आरोपी भाभी अपने प्रेमी के साथ देवर कंछेदी को मारने की साजिश रच चुकी थी। इसी बीच रक्षाबंधन त्योहार पर कंछेदी की पत्नी मायके चली गई। कंछेदी घर में अकेला था। मौका पाते ही 7 अगस्त को आरोपी भाभी राजकुमारी अपने प्रेमी के साथ सागर से हीरापुर पहुंची। देवर कंछेदी से मिलने के लिए रात के समय उसके घर गई। जहां दोनों ने मिलकर सोते समय कंछेदी की गला रेतकर हत्या कर दी थी। वारदात कर दोनों फरार हो गए। सागर में छिपे बैठे थे।

वारदात सामने आते ही पुलिस ने जांच शुरू की। प्राथमिक जांच में पुलिस की संदिग्ध लिस्ट में मृतक की पत्नी, भाई और उसकी भाभी के नाम शामिल थे। जब पुलिस ने एक के बाद एक से पूछताछ की तो मृतक और उसकी भाभी के बीच अवैध संबंधों की कहानी पता चली। इसी आधार पर भाभी को तलाशा तो वह सागर में मिली, जो अपने प्रेमी के साथ रह रही थी। पुलिस ने दोनों आरोपियों को कोर्ट पेश किया। जहां से उन्हें न्यायालय ने जेल भेज दिया है।

सागर में घर में घुसकर युवक की हत्या:सोते समय गर्दन और सिर पर किया धारदार हथियार से हमला, घर के कमरे में मिला लहूलुहान शव

खबरें और भी हैं...