पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नदी और तालाबों पर बनेंगे 15 ब्रिज और पुलियां:लंबे सफर की दूरी कम करेंगे 32.99 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले 15 ब्रिज

दमोह4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के अंदर मुख्य सड़क से जुड़ीं अलग-अलग सड़कों पर 942.60 मीटर लंबे 15 नए ब्रिज बनने जा रहे हैं। इनका डीपीआर बनाकर शासन को मंजूरी के लिए भेजा गया है। राज्य सरकार से स्वीकृति के बाद इन्हें केंद्र सरकार के पास भेजा गया है। वहां से स्वीकृति मिलने पर इनकी टेंडर प्रक्रिया होगी। खास बात यह है कि वर्तमान में जिले के अंदर जिन सड़कों पर नदी और तालाब हैं और इनकी वजह से कई रास्ते लंबे और घुमादार हैं, इनमें आवागमन के दौरान अभी ज्यादा समय लगता है। डीपीआर स्वीकृत होने पर जब यह ब्रिज और पुलिया बनाईं जाएगीं तो इनकी दूरियां कम हो जाएगीं।

मध्यप्रदेश सड़क विकास प्राधिकरण की ओर से मुख्य सड़कों से जुड़ी इन सड़कों पर जो ब्रिज और पुलिया बनने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। उसमें 15 से 60 मीटर लंबी 8 पुलिया और 60 मीटर से ज्यादा लंबाई वाले 7 ब्रिज बनेंगे। फिलहाल डीपीआर बनाकर शासन के पास मंजूरी को भेजे गए थे। जिनमें इन ब्रिजों की कुल लंबाई 942.60 मीटर है और इनके निर्माण कार्य पर 3299.29 लाख रुपए की राशि खर्च होगी। खास बात यह है कि अब तक मध्यप्रदेश सड़क विकास प्राधिकरण सड़क बनाने का काम करता था, लेकिन अब पहली बार उसे ब्रिज और पुलिया बनाने का काम दिया जा रहा है। विभाग से ही पहले डीपीआर बनवाया गया, स्वीकृति मिलने पर उसी से यह काम भी कराया जाएगा। पहले जिले में ब्रिज और पुल बनाने का काम सेतु निर्माण विभाग करता था, लेकिन उससे काम छीन कर प्राधिकरण को दिया जा रहा है।

दरअसल पिछले 3 साल में विभाग के पास केवल 7 सड़कें चौड़ी करने का काम आया था। उसके बाद से सड़कें बनाने का काम पूरी तरह से बंद चल रहा है। जो सड़कें बन रही हैं। वह पुरानी स्वीकृत सड़कें हैं, जिनका काम किसी न किसी वजह से रुका हुआ था। लेकिन अब सड़कों की जगह पुल और ब्रिज बनने के लिए शासन आदेश दिए हैं। विभाग के जीएम और कार्यपालन यंत्री पीके जैन ने बताया कि पहली बार 15 पुल और ब्रिजों का एस्टीमेट बनाकर शासन को भेजा गया था। वर्तमान में डीपीआर स्वीकृति के लिए केंद्र सरकार के पास भेजा गया है। वहां से स्वीकृति अभी नहीं आई है। स्वीकृति मिलने पर टेंडर जारी होंगे।

केंद्र सरकार की स्वीकृति मिलते ही जिले के इन ब्लॉकों शुरू हो जाएगा ब्रिज निर्माण
बटियागढ़ ब्लाक: बटियागढ़ केरबना मार्ग पर सकतपुर, सेहरा, बम्हौरी लड़ई से खड़ेरी के बीच सड़क पर एक स्थानीय नाला पर 41 मीटर लंबा ब्रिज बनेगा। जिसकी 150.19 लाख रुपए लागत तय की गई है। इसी मार्ग पर एक और 31मीटर लंबा ब्रिज प्रस्तावित किया गया है। जिसकी कीमत 117.55 लाख रुपए है।
दमोह ब्लाक: जबलपुर-टीमकमगढ़ स्टेट हाइवे पर कोटातला, भूरी, बिजौरा, हथनी, झापन मार्ग पर 87.31 लाख रुपए से 17 मीटर लंबा ब्रिज।
हटा ब्लाक: नकटी मोहरी हटा करैया बर्धा मार्ग पर 33 मीटर लंबा ब्रिज 113.28 लाख रुपए की लागत से बनेगा। इसी तरह घुटरिया रनेह बिजावर मार्ग पर 226.57 लाख रुपए से 68 मीटर लंबा ब्रिज और इसी मार्ग पर 68 मीटर लंबा ब्रिज221 लाख रुपए से बनेगा।
पटेरा ब्लाक: दमोह पटेरा मार्ग पर देवडोंगरा, कुड़ई, पिपरिया शिकारपुरा मार्ग पर 120मीटर लंबा ब्रिज402 लाख रुपए में बनना प्रस्तावित है। इसी प्रकार कुलुवा कुम्हारी पथरिया सागौनी कुसुमी मार्ग पर 75 मीटर लंबा ब्रिज254 लाख रुपए, इसी मार्ग पर आगे 90 मीटर लंबा ब्रिज 297 लाख रुपए से बनेगा।
पथरिया ब्लाक: नरसिंहगढ़ में किशनगंज बरखेड़ा दुर्गादास से जेरठ मार्ग पर 31 मीटर लंबा ब्रिज 119 लाख रुपए से, इसी मार्ग पर किशनगंज से डायमंड रोड चकेरी महुना से नरसिंहगढ़ मार्ग पर 17 मीटर लंबा ब्रिज 86 लाख रुपए में ब्रिज प्रस्तावित है।
तेंदूखेड़ा ब्लाक-माड़नखेड़ा से कलहेरा मार्ग पर 33 मीटर लंबा ब्रिज 142 लाख रुपए में, तेदूखेड़ा जामुनखेड़ा खमरिया कला अजीतपुर मार्ग पर 90 मीटर लंबा ब्रिज 313 लाख रुपए में। इसी प्रकार 75 मीटर लंबा ब्रिज 272 लाख रुपए और एक अन्य 150 मीटर लंबा ब्रिज 494 लाख रुपए से बनेगा।

खबरें और भी हैं...