पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %

मेडिकल जांच में पाया‎ गया बच्ची से दुष्कर्म‎ नहीं हुआ:तीन साल की बच्ची का अपहरण, आक्रोशित लोगों ने की तोड़फोड़‎

पन्ना‎एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमानगंज के पुराना बस स्टैंड स्थित‎ इमाम चौक स्थित मनहारी दुकान वाली‎ गली में रहने वाली 3 वर्षीय बालिका‎ का अपहरण हो गया। नगर में बच्ची के‎ साथ दुष्कृत्य होने की अफवाह फैल‎ गई। इसके विरोध में अमानगंज में‎ प्रदर्शनकारियों ने बबाल मचाते हुए कुछ‎ दुकानों में तोड़फोड़ कर दी। उपद्रवियों‎ को नियंत्रित करने के लिए मौके पर‎ मौजूद पुलिस को बल का प्रयोग करना‎ ‎ पड़ा।

इससे पांच पुलिसकर्मियों काे चोट‎ लगी है।‎अमानगंज नगर में एक 3 वर्षीय बच्ची‎ रविवार को दोपहर 1 बजे से गायब हो‎ गई थी। देर शाम तक पता नहीं चला तो‎ इसकी सूचना पुलिस थाने को दी गई।‎ पुलिस को मिढ़ासन नदी के घाट पर‎ बच्ची मिल गई पड़ोस के ही नाबालिग‎ बालक द्वारा बच्ची को गायब करने की‎ जानकारी मिली।‎ पुलिस ने बच्ची का अपहरण करने के‎ आरोप में 11 वर्षीय बालक के खिलाफ‎ अपहरण का मामला दर्ज कर लिया।‎ आरोपी बालक को थाने में बुलाया और‎ छोड़ दिया।

वहीं से इस घटनाक्रम को‎ लेकर नगर में अफवाह फैलने लगी कि बालक द्वारा अपहरण करने के बाद 3‎ वर्षीय बालिका के साथ दुष्कृत्य किया‎ गया है रात को बवाल शुरू हो गया।‎ भीड़ इकट्‌ठी होने लगी और नाराजगी‎ जताते हुए प्रदर्शनकारी थाने पहुंच गए,‎ जहां पर प्रशासन और पुलिस के‎ खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।‎ प्रदर्शनकारी हंगामा करते हुए गांधी चौक‎ पहुंचे, जहां पर एक समुदाय के लोगों‎ की दुकानों में तोड़फोड़ की गई। साथ‎ ही वहां पर लगी फल सब्जी के‎ हाथठेलों में आग लगा दी गई।‎ प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के‎ लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करना‎ शुरू किया हालात को काबू करने में 5‎ लोग घायल हो गए।

एसपी ने अमानंगज कस्बा क्षेत्र‎ में धारा‎ 144‎ लागू कर दी‎

एसपी धर्मराज मीणा सहित पुलिस और राजस्व के‎‎ आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। रात को करीब 12‎‎ बजे मामला शांत हुआ। अमानंगज कस्बा क्षेत्र में धारा‎‎ 144 लागू कर दी गई और दूसरे दिन सोमवार को शांति‎‎ व्यवस्था बनी रही इसको लेकर जगह-जगह पुलिस‎‎ तैनात रही।‎ बच्ची को पुलिस संरक्षण में जिला अस्पताल‎ ले जाया‎ गया। जहां मेडिकल टीम ने चेकअप किया।‎ चैकअप में‎ दुष्कृत्य की पुष्टि नहीं हुई। एसपी पन्ना‎ धर्मराज मीना ने‎ बताया कि मेडिकल चेकअप नाबालिग‎ लड़की की‎ माता पिता की उपस्थिति में कराया गया और‎ मेडिकल‎ चेकअप के बाद बालिका को माता पिता के‎ सुपुर्द कर‎ दिया। नगर में हालात अब काबू में हैं।

खबरें और भी हैं...