पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Chhatarpur
  • Middle Brother Occupied The Well And Planted Thorny Bushes, Asks For Water From Here And There, Brother, Police Station, Panchayat Did Not Hear

पानी के लिए तरसता भाई:मझले भाई ने कुएं पर कब्जा कर लगाई कटीली झाड़ियां, इधर-उधर से पानी मांगता है भाई, थाने, पंचायत में नहीं हुई सुनवाई

छतरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्टर-एसपी से करेंगे गुहार - Money Bhaskar
कलेक्टर-एसपी से करेंगे गुहार

पानी की कमी के चलते बूंद-बूंद को तरसते लोग तो आपने बहुत देखे होंगे पर भरपूर पानी होने के बावजूद पानी की बूंद-बूंद को तरसते लोगों को कम ही देखा होगा। दरअसल, जिले के एक घर के आंगन में कुआं होने के बावजूद एक बूंद पानी तक नहीं मिल पाता है। उसमें कटीली झाड़ियां उगी हुई हैं। जानकारी के अनुसार, जिले के खेराकसार गांव के अच्छेलाल अनुरागी (32) और उसकी पत्नी शिवदेवी अनुरागी (26) ने बताया कि वे तीन भाई हैं। वहीं, घर के आंगन में एक कुआं हैं, जो तीनों भाइयों के बीच एक ही है। कुएं पर मंझले भाई छोटा प्रजापति ने कब्जा कर रखा है। उसने कुएं में कंटीली झाड़ियां (बारी) लगा रखी हैं।

ये है पूरा मामला
पीड़ित ने बताया कि हमें पीने तक का पानी नहीं मिल पाता। हम पानी के लिए इधर-उधर से जुगाड़ करते हैं। इसी वजह से हमारे बीच कई बार लड़ाई-झगडे भी हो चुके हैं। पीड़ित ने बताया कि मैं विकलांग हूं, इसी वजह से मैं लड़-भीड़ भी नहीं पाता। गांव के सरपंच, पंचायत, थाने सब जगह शिकायत की पर कोई सुनवाई नहीं हुई। एक बार पंचायत में समझौता हुआ था तो कुछ दिन पानी मिला लेकिन कुछ दिन बीतने के बाद अब दोबारा से पानी नहीं मिल रहा। इसकी शिकायत भी थाने में की पर कोई नहीं सुना। सब कहते हैं कि घर का मामला है गांव पंचायत में बताओ। अब तो गांव और पंचायत भी मेरी बात नहीं सुनती। इसी वजह से वे लोग जिला मुख्यालय आए हैं। उन्हें उम्मीद है कि शायद एसपी और कलेक्टर साहब के पास सुनवाई हो जाए। पीड़ित ने बताया कि हम 2017 से परेशान हैं। इसी तरह से हम हर जगह चक्कर काट रहे हैं।

जल्द दोनों पक्षों में सुलह करवाएंगे
मामले में गांव के सरपंच जयेंद्र सिंह ने बताया कि मामला अब तक हमारी जानकारी में नहीं था। अब हम दोनों पक्षों को पंचायत में बुलाएंगे। जल्द ही पूरे मामले में समझौता करवाएंगे। अगर कुआं शमिल खाते का है तो तीनों भाइयों का बराबर का हक बनता है और उन्हें हक जरूर मिलेगा।

खबरें और भी हैं...