पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %

नया खतरा:एलाइजा टेस्ट शुरू हाेने से बढ़े डेंगू के‎ मरीज, 4 दिन में 29 निकले पॉजिटिव‎

छतरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में डेंगू मरीज की संख्या‎ बढ़कर हुई 100 के पार, 17 मरीज‎ अभी भी वार्ड में‎

जिले के लोगों में अब तक डेंगू बीमारी‎ के लक्षण पाए जाने पर जिला‎ अस्पताल प्रबंधन द्वारा एनएस वन‎ एंटीजन रैपिड टेस्ट कराया जाता था।‎ इस टेस्ट की विश्वसनीयता 90‎ प्रतिशत तक होने के कारण अब‎ प्रबंधन ने एलाइजा टेस्ट कराना शुरू‎ कर दिया है।

ताकि इलाज कर रहे‎ डॉक्टर के साथ मरीज को डेंगू बीमार‎ होने या न होने का पूरी तरह से यकीन‎ हो सके। 4 दिन पहले शुरू किए गए‎ एलाइजा टेस्ट में अब तक जिले के‎ 29 संदिग्ध मरीज डेंगू बीमारी से ग्रस्त‎ पाए गए। लैब टेक्नीशियन अरविंद्र‎ मिश्रा ने बताया कि पिछले पांच दिनों‎ से जिला अस्पताल स्थित लैब से‎ एलाइजा टेस्ट के माध्यम से डेंगू रोग‎ की जांच की जा रही है। पिछले पांच‎ दिनों में लैब द्वारा 125 मरीजों के‎ एलाइजा टेस्ट किए गए। जिसमें 29‎ मरीज डेंगू बीमारी से पीड़ित पाए गए।‎ लैब टेक्नीशियन ने बताया कि इसके‎ पहले तक अस्पताल प्रबंधन द्वारा‎ एनएस वन एंटीजन रैपिड टेस्ट कराया‎ जाता था।‎

जिला अस्पताल में 10 बेड के वार्ड में 17 मरीज अभी‎ भी भर्ती‎
तेज‎ धूप‎ निकलना शुरू हुई मरीज बढ़ना फिर‎‎ से शुरू हो गए। तीन दिन पहले‎ जिला‎ अस्पताल‎ परिसर स्थित डेंगू‎ वार्ड में 11 मरीज‎ भर्ती होकर अपना‎ इलाज करा रहे थे। पर‎ पिछले दो‎‎ दिन में एक साथ 11 मरीज पाए‎‎ जाए ने इनकी संख्या बढ़ कर 22‎ तक पहुंच‎ गई। गनीमत‎ यह रही कि‎ इस दौरान 5 मरीज‎ स्वस्थ होकर‎ डिस्चार्ज हो गए। इसलिए‎ वर्तमान में‎ 10 बेड‎ के इस वार्ड इस‎ टेस्ट की विश्‍वसनीयता‎ 90 प्रतिशत‎ के‎ करीब तक‎ होने के कारण प्रबंधन‎ ने‎ एलाइजा‎‎ टेस्ट करना शुरू कर‎‎ दिया है। इस टेस्ट के‎ शुरू‎ होने से‎ जिले के लोगों को‎ अन्य शहरों में‎‎‎ अपना डेंगू‎ टेस्ट कराने नहीं जाना‎ पड़ाता।‎‎ समय के साथ ही मरीजों‎ को‎ आर्थिक नुकसान‎‎ भी नहीं‎ होता।‎ पिछले सप्ताह जिले में हुई‎ बारिश के‎ कारण सुबह और शाम से समय‎‎ ठंडक‎ होने लगी। जिससे जिले में‎ दो-तीन दिन‎ तक डेंगू के मरीजों में‎ कमी आई। पर जैसे ही‎ में 17 मरीज‎‎ अपना इलाज करा रहे हैं।‎‎‎

101 पॉजिटिव,‎ जिसमें‎ 60 प्रतिशत शहर के‎
बता दें कि जिले में अब तक 101‎‎‎ लोग डेंगू बीमारी से पीड़ित पाए‎ गए,‎‎ जो स्वस्थ्य विभाग के रिकॉर्ड‎ में‎ दर्ज‎ हैं। इसमें सबसे अधिक‎ 60‎ प्रतिशत‎ मरीज छतरपुर शहर‎ के‎ और शेष 40‎ प्रतिशत विभिन्न‎ नगरों‎ और कस्बों के‎ साथ ग्रामीण‎ क्षेत्र के‎ हैं। जिसमें‎ छतरपुर शहर‎ के बेनीगंज‎ मोहल्ला,‎ शुक्लाना‎ मोहल्ला, गायत्री‎ मंदिर,‎ रामबाग‎ मोहल्ला, नरसिंहगढ़‎ पुरवा,‎‎ विश्वनाथ कॉलोनी,‎ कोतवाली के‎‎ पीछे के क्षेत्र में पाए‎ गए। इतना ही‎‎ नहीं इन 101 डेंगू के‎ मरीजों में‎ 45‎ प्रतिशत 18 वर्ष से‎ कम उम्र‎ के‎ शामिल हैं। इसके साथ‎ ही‎ नौगांव,‎ बिजावर, किशनगढ़,‎‎ बड़ामलहरा,‎ बर्रोही, नरवारा,‎‎ रजपुरा, छपरा,‎ रायपुरा ढ़िला के‎‎ लोग शामिल हैं।‎ जबकि जिले के‎‎ इतने ही डेंगू रोग से‎ पीड़ित लोग‎‎ अपना इलाज ग्वालियर,‎ सागर,‎‎ झांसी के साथ भोपाल के‎‎ अस्पतालों‎ में करा रहे हैं।‎‎‎

खबरें और भी हैं...