पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Chhatarpur
  • Ambulance Could Not Reach Home Due To Mud Due To Labor Pain, Family Members Came Out Of Tractor, Gave Birth To A Child On The Way, Mother Died

कीचड़ ने ली प्रसूता की जान:प्रसव पीड़ा होने पर कीचड़ के कारण घर तक नहीं आ सकी एंबुलेंस, परिजन ट्रैक्टर से लेकर निकले, रास्ते में दिया बच्चे को जन्म, मां की मौत

छतरपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रास्ते में कीचड़ के कारण महिला समय पर अस्पताल नहीं पहुंच सकी। - Money Bhaskar
रास्ते में कीचड़ के कारण महिला समय पर अस्पताल नहीं पहुंच सकी।

कीचड़ के कारण एक प्रसूता की सांसें थम गईं। हालांकि बच्चा स्वस्थ्य है। उसे प्रसव पीड़ा होने पर परिजनों ने एंबुलेंस को कॉल किया। कीचड़ के कारण एंबुलेंस घर तक नहीं पहुंच सकी। परिजन उसे ट्रैक्टर-ट्रॉली की मदद से अस्पताल लेकर निकले, लेकिन रास्ते में उसकी मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि यदि रास्ता सही होता तो प्रसूता की जान नहीं जाती।

मामला छतरपुर जिले के लवकुश नगर के वार्ड क्रमांक 8 के राजापुरवा का है। 38 साल की महिला गोमती राय को प्रसव पीड़ा होने पर परिजनों ने एंबुलेंस को कॉल किया। एंबुलेंस रास्ता खराब होने की वजह से नहीं पहुंच सकी। इस पर परिजन ट्रैक्टर की मदद से प्रसूता को अस्पताल लेकर जाने के लिए निकले। लेकिन बीच रास्ते प्रसव पीड़ा अधिक होने से उसने रास्ते में ही बच्चे को जन्म दे दिया। हालांकि बच्चे की जन्म के बाद मां की मौत हो गई।

परिजन बोले - रास्ता सही होता तो नहीं जाती जान।
परिजन बोले - रास्ता सही होता तो नहीं जाती जान।

लोगों का कहना है कि लवकुश नगर नगरीय क्षेत्र में आता है, लेकिन सड़क जैसी मूलभूत सुविधा गांव के कुछ हिस्से में नहीं होने के कारण बड़ी समस्या आती है। बरसात के सीजन में दो पहिया और चार पहिया वाहन का निकलना मुश्किल ही हो जाता है। यहां से पैदल निकला ही मुश्किल रहता है।

खबरें और भी हैं...