पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61876.150.93 %
  • NIFTY18503.40.9 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Rewa Is The Only District Of Madhya Pradesh Where 60 Km. 4 Water Falls Within The Radius, People Of The Surrounding States Are Drawn During The Rainy Season

MP में ये है जलप्रपातों वाला जिला, VIDEO:रीवा ऐसा इकलौता जिला जहां 60 KM के दायरे में 4 वाटर फॉल, दूर-दूर से देखने आते हैं लोग

रीवा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बारिश के मौसम में अगर प्राकृतिक खूबसूरती का नजारा देखना है, तो रीवा चले आइए। खास बात है कि मध्यप्रदेश में यह ऐसा इकलौता जिला है, जहां 60 किलोमीटर के दायरे में 4 वाटर फॉल हैं। इन्हें दिनभर में एक साथ ही देख सकते हैं। ये सभी वॉटर फॉल मुख्य मार्ग से लगे हुए हैं।

आप सड़क की सतह से ही मनोरम नजारा देखकर मोबाइल फोन में कैद कर सकते हैं। बता दें कि मध्य प्रदेश का इकलौता जिला रीवा ही है, जिसे जलप्रपातों का शहर कहा जाता है। यहां शहर में बीहर नदी की कलकलाहट का सुंदर नजारा देखने को मिलता है, तो आउटर में पूर्वा फॉल, चचाई फॉल, क्योटी फॉल और बहुती फॉल के झरने हरियाली की चादर ओढ़कर दर्शकों का दीदार करा रहे हैं।

क्योटी फॉल
क्योटी जलप्रपात भारत का 24वां सबसे ऊंचा झरना है। जो शहर से 40 किमी. व सिरमौर से 10 की दूर स्थित है। यह झरना महाना नदी पर बना है। इसकी ऊंचाई करीब 130 मीटर है। क्योटी जलप्रपात अपनी आकर्षक सुंदरता से ट्रैकर्स और पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। यहां यूपी बिहार के लोग सबसे ज्यादा आते है।

ऐसे पहुंचें- रीवा से सड़क के रास्ते सिरमौर पहुंचकर यहां जा सकते हैं।

पूर्वा फॉल
शहर से 25 किलोमीटर व सेमरिया कस्बे से 15 किमी. पहले पूर्वा फॉल टोंस नदी पर स्थित है। इस झरने की ऊंचाई करीब 70 मीटर है। क्षेत्र की प्राकृतिक सुंदरता के कारण वर्ष भर हजारों पर्यटक आते हैं। यह स्थान सबसे अच्छे पिकनिक स्थानों में से एक है। हिंदू महाकाव्य रामायण में भी इस झरने का वर्णन मिलता है।

भारी बारिश होने पर पूर्वा फाल का कुछ ऐसा नजारा होता है।
भारी बारिश होने पर पूर्वा फाल का कुछ ऐसा नजारा होता है।

चचाई जलप्रपात
चचाई जलप्रपात मध्य प्रदेश के सबसे बड़े झरनों में एक है। यह बीहर नदी में 130 मीटर से अधिक ऊंचाई पर स्थित हैं। रीवा चचाई जलप्रपात की दूरी 46 किमी. तो सिरमौर से 8 किमी. की दूरी पर स्थित है। बीहर नदी आगे जाकर तमसा नदी से मिलती है। इस झरने की खूबसूरती बरिश के मौसम में ही देखने मिलती है, क्योंकि इस झरने के ऊपर एक डैम बनाया गया है।

ऐसे पहुंचें- रीवा से 46 किलोमीटर दूर है। रीवा से सिरमौर से यहां पहुंचा जा सकता है। सिरमौर से 8 किलोमीटर दूर है।

बहुती जलप्रपात
रीवा शहर 85 किमी. दूर उत्तर पूर्व की ओर मऊगंज तहसील में बहुती प्रपात स्थित है। यह सेलर नदी पर स्थित है। इसकी ऊंचाई 198 मीटर (650 फीट) है। इस प्रपात की गहराई 465 फुट हैं।

ऐसे पहुंचें- ओड्डा नदी, सीतापुर से निकलकर 40 किलोमीटर दूरी के बाद मऊगंज से 15 किलोमीटर दूर बहुत ग्राम के निकट, बहुत जलप्रपात का निर्माण करती है।

खबरें और भी हैं...