पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %

MP के रीवा में बढ़ रहे अपराधों का विरोध:SP कार्यालय का घेराव करने जा रहे 51 NSUI कार्यकर्ताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, फिर पुलिस लाइन में ले जाकर मुचकुले पर छोड़ा

रीवा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तारी देते युकां व NSUI के कार्यकर्ता। - Money Bhaskar
गिरफ्तारी देते युकां व NSUI के कार्यकर्ता।
  • आए दिन लूटपाट व गोली चलने की घटना को लेकर​ दिखाया आक्रोश, जा रहे एसपी को ज्ञापन सौंपने

रीवा जिले में लगातार बढ़ रहे अपराधों के विरोध में एनएसयूआई ने एसपी को ज्ञापन देते हुए 51 कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी। बताया गया कि गुरुवार की दोपहर युवा कांग्रेस व NSUI के पदाधिकारियों ने पुलिस की कार्यप्रणाली के विरोध में मोर्चा खोलते हुए एसपी कार्यालय का घेराव करने जा रहे थे। जहां पहले से मुस्तैद पुलिस ने रोकते हुए आंदोलन कारियों को गिरफ्तार कर लिया।

उल्लेखनीय है कि जिले में लूटपाट व गोली चलने की घटनाएं इन दिनों आम हो गई है। वहीं अवैध शराब व नशीली दवाइयों का कारोबार गांव से लेकर शहर तक तेजी से फल फूल रहा है। जिसको अंकुश लगाने में पुलिस लाचार समझ में आ रही है। इन्हीं सब बातों को लेकर युकां एवं एनएसयूआई के पदाधिकारी मानस भवन के पास एकत्रित हुए थे।

विरोध प्रदर्शन कर गिरफ्तारी देने जाते कार्यकर्ता।
विरोध प्रदर्शन कर गिरफ्तारी देने जाते कार्यकर्ता।

आंदोलन का नेतृत्व कर रहे NSUI अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी एवं युकां जिला उपाध्यक्ष अनूप सिंह चंदेल ने कहा कि रीवा अपराधियों का गढ़ बनता जा रहा है। हत्या, चोरी, डकैती, राहजनी, गाड़ी चोरी, अवैध मादक पदार्थ की तस्करी लगातार बढ़ रही है। पुलिस छोटी मोटी कार्यवाही करके अपनी पीठ थपथपा रही है। बड़े अपराधियों पर शिकंजा नहीं कसती है। जिसका परिणाम है कि अपराध लगातार बढ़ रहे हैं। कब किसे मार दिया जाए अथवा लूट लिया जाए कोई नहीं जानता है।

महिलाओं का बाजार में निकलना मुश्किल
शहर में बढ़ रही वारदातों से महिलाए घर से निकलने में डरती है। राह चलते मोबाइल लूट लिये जाते हैं। आबाज उठाने पर गिरफ्तारी की जा रही है। जो प्रदेश के अमन चैयन के हित में नहीं है। अब पुलिस जनता को सुरक्षित किए जाने की मांग उठाने वालों पर चाहे गोली चलाया या फिर लाठी बरसाए। हम लोग पीछे नहीं हटेंगे।

खबरें और भी हैं...