पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58700.290.36 %
  • NIFTY17455.20.34 %
  • GOLD(MCX 10 GM)462080.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)59537-0.64 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • On One Side 4 New Corona Positive Patients Were Found, On The Other Hand The Arrangement Of District Hospital Is Such That Even A Good Person Becomes Ill.

पन्ना जिले में कोरोना रिटर्न:एक तरफ 4 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, दूसरे तरफ जिला अस्पताल की व्यवस्था ऐसी की अच्छा आदमी भी बीमार हो जाए

पन्ना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाटर कूलर के आसपास फैली गंदगी। - Money Bhaskar
वाटर कूलर के आसपास फैली गंदगी।
  • कोविड-19 मरीजों को गर्म पानी भी नहीं हो रहा नसीब, गंदगी व दुर्गंध से सांस लेना दूभर

मध्यप्रदेश के पन्ना जिले को कोरोना ने एकबार फिर अपनी गिरफ्त में लेना शुरू कर दिया है। यहां कोविड-19 की तीसरी लहर की आशंका के बीच जिले में 4 संक्रमित मरीज मिले हैं। 28 जुलाई को 4 प्रकरण सामने आने के बाद शासन और प्रशासन अलर्ट होने का दिखावा कर रहा है लेकिन असल हकीकत कुछ और ही है। अस्पताल सूत्रों की मानें तो कोरोना संक्रमित चारों मरीजों को जिला अस्पताल के कोविड-19 हेल्थ सेंटर में रखा गया है।

मरीजों का आरोप है कि कोविड-19 हेल्थ सेंटर में कैदियों की तरह रखा गया है। यहां स्वच्छता का कोई नामोनिशान नहीं है। परिसर में हर तरफ गंदगी फैली है। टूटे और गंदे डस्टबिन रखे हैं। शौचालय गंदगी और बदबू से पटे पड़े हैं। पीने के पानी के नाम पर साधारण पानी का जार रखा है। कोरोना संक्रमितों को गर्म पानी की मांग करने पर कहा जाता है कि यहां गर्म पानी की कोई व्यवस्था नहीं है।

संक्रमित मरीजों को दिया जा रहा है गुणवत्ताहीन खाना
मरीजों ने बातचीत में बताया है कि नाश्ता और खाना गुणवत्ताहीन दिया जा रहा है। सुबह नाश्ते के रूप में मिलने वाले पोहे में नमक की मात्रा इतनी अधिक होती है कि वह खाने योग्य नहीं रहा है। ऐसे में ज्यादातर लोगों ने नहीं खाया है। इसी तरह दोपहर और रात में दिए जाने वाला भोजन भी गुणवत्ता हीन रहता है।

भगवान भरोसे कोरोना मरीज
एक मरीज ने नाम न बताने की सर्त पर कहा कि भर्ती होने के बाद उन्हें एक-एक इंजेक्शन लगाकर छोड़ दिया था। दूसरे दिन नर्स एक टेबलेट देकर चली गई। रात्रि में ठंड लगने पर गीला कंबल दिया था। जिससे रातभर परेशान होता रहा। अभी तक कोई भी डॉक्टर देखने नहीं पहुंचा है। जिनका इलाज चल रहा है। वे भगवान का नाम लेकर इलाज करा रहे है। फिर भी जिम्मेदार मुड़कर नहीं देखते है।

प्रशासन की नजर में सब सही
आरोप है कि वर्तमान समय में 4 मरीज भर्ती हैं। जिनमें एक मरीज पन्ना नगर के कटरा बाजार का है। जबकि दूसरा एनएमडीसी मझगवां का रहने वाला है। इसी तरह तीसरा मरीज छतरपुर जिले का है। वहीं चौथा मरीज बाहरी है। चारों कोविड-19 सेंटर की अव्यवस्थाओं से परेशान हैं। हालांकि बीती रात जिला प्रशासन के कुछ अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। जिसके बाद समस्याओं से मुक्ति मिलने की संभावना है।

पन्ना से सुहृद तिवारी

खबरें और भी हैं...