पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61350.260.63 %
  • NIFTY18268.40.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)479750.13 %
  • SILVER(MCX 1 KG)65231-0.33 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Rewa
  • Maihar MLA's Support To The Movement Of Panchayat And Rural Development, Reached The Pandal And Said I Will Keep The Matter Of Your Rights In The Assembly

संविदा कर्मचारियों की हड़ताल का 9वां दिन:पंचायत एवं ग्रामीण विकास के आंदोलन को मैहर विधायक का समर्थन, पंडाल में पहुंचकर बोले- विधानसभा में रखूंगा आपके हक की बात

रीवा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्ट्रेट के गेट पर प्रदर्शन करते पंचायतकर्मी। - Money Bhaskar
कलेक्ट्रेट के गेट पर प्रदर्शन करते पंचायतकर्मी।
  • रैली के रूप में उमड़ा पंचायत कर्मचारियों का जनसैलाब, कलेक्ट्रेट में लामबंद होकर बोला हल्ला, फिर सौंपा कलेक्टर को ज्ञापन

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग संयुक्त मोर्चा के तत्वाधान में संविदा अधिकारियों व कर्मचारियों की हड़ताल के 9वें दिन जनपद कार्यालय के सामने कर्मचारी नेताओं ने शक्ति प्रदर्शन किया। यहां शुक्रवार की दोपहर पंडाल पर मैहर के भाजपा विधायक एवं विंध्य प्रदेश की मांग उठाने वाले नारायण त्रिपाठी पहुंचे। जिन्होंने प्रदर्शनकारियों की आवाज बुलंद कर विधानसभा में पंचायत कर्मचारियों की उठाने की बात कहीं।

नारायण त्रिपाठी के हल्लाबोल कार्यक्रम के बाद हजारों कर्मचारियों ने जिलास्तरीय धरना प्रदर्शन में एकत्र होकर जनपद पंचायत प्रांगण रीवा से सिरमौर चौराहा, कॉलेज चौराहा होते हुए कलेक्ट्रेट के गेट पर पहुंचे। जहां पर कलेक्टर इलैयाराजा टी को मांगों का ज्ञापन सौंपा।

रीवा जनपद कार्यालय के सामने संबोधित करते विधायक।
रीवा जनपद कार्यालय के सामने संबोधित करते विधायक।

कर्मचारियों के आंदोलन में नारायण ने फूंकी जान
बताया गया कि संयुक्त मोर्चा के धरनास्थल में नारायण त्रिपाठी ने अपने चिर परिचित अंदाज में जान फूंकने का कार्य किया। मांगों का समर्थन करते हुए विधायक ने कहा कि मुख्यमंत्री एवं पंचायत मंत्री से चर्चा करेंगे। साथ ही विधानसभा पटल में आप लोगों की मांगों को रखने का प्रयास करूंगा। पंचायत विभाग चल रही जनकल्याण योजनाओं की संविदा कर्मचरी धुरी है। ये कर्मचारी दिन रात कम संसाधनों व अल्प वेतन में काम करते हैं। इन्हें इनका हक मिलना चाहिए।

इन संगठनों का समर्थन
संयुक्त मोर्चा के आंदोलन में रोजगार सहायक संघ, सचिव संघ, मनरेगा अधिकारी कर्मचारी संघ, उपयंत्री संघ, स्वच्छ भारत मिशन अधिकारी कर्मचारी संघ, आजीविका मिशन संघ, प्रधानमंत्री आवास योजना कर्मचारी संघ, ऑपरेटर संघ, DRDA अधिकारी कर्मचारी संघ, वाटरशेड कर्मचारी संघ, सोशल आडिट संघ एवं अन्य पंचायत विभाग के कर्मचारी संघ के सभी सदस्य उपस्थित रहे।

9 जनपदों के कर्मचारी रहे शामिल
बताया गया कि जिले के 9 जनपदों के कर्मचारियों का जत्था रैली में शामिल रहा। कर्मचारियों की प्रमुख मांगों में संविदा नियमतिकरण, 5 जून 2018 की संविदा नीति लागू करना, वार्षिक अनुबंध प्रथा बंद करें, लोकसेवक असमय मौत पर अनुकम्पा एवं राहत राशि, मंहगाई व यात्रा भत्त्ता, सचिव अनुकम्पा योजना का निराकरण, पूर्व में कैबिनेट से पास 6वें वेतन की गणना, प्रमोशन का लाभ, रोजगार सहायक पूर्णकालिक पद दर्जा, स्वेच्छा से स्थानांतरण, पंचायत विभाग में सहायक सचिव के रूप में सम्मिलित करना।

इन कर्मचारी नेताओं ने बोला हल्ला
उक्त रैली में संयुक्त मोर्चा के संभाग अध्यक्ष बृजेश सिंह, रीवा ज़िला अध्यक्ष देवेंद्र बहादुर सिंह, सतना ज़िला अध्यक्ष नागेन्द्र सिंह, यादवेंद्र सिंह, देवेश तिवारी, सुखेंद्र सिंह, योगेंद्र पाण्डेय, संजय सिंह, संदीप शुक्ला, डॉ. राजकुमार शुक्ला, बसन्त पटेल, प्रमोद द्विवेदी, लवकुश साहू, आभा सिंह एवं अन्य भारी संख्या में संयुक्त मोर्चा के जनपद अध्यक्ष, सचिव, GRS एवं कर्मचारीगण बारिश में भी पूर्ण निष्ठा से डाटे रहें।

खबरें और भी हैं...