पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60926.69-0.54 %
  • NIFTY18180.5-0.47 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47363-0.05 %
  • SILVER(MCX 1 KG)642760.82 %

रीवा से बप्पा की विदाई:गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस तू जल्दी आना के उद्घोष के साथ गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन, बाबा घाट और छतुरिहा घाट में किया प्रवाहित

रीवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बप्पा को विसर्जन करते भक्त। - Money Bhaskar
बप्पा को विसर्जन करते भक्त।
  • नगर निगम अमला, होमगार्ड के गोताखोर व एसडीआरएफ के जवान तैनात

रीवा शहर में अनंत चतुर्दर्शी का पर्व धूमधाम से बनाया गया। रविवार की दोपहर से ही बप्पा की​ विदाई करने वाले भक्त बारी-बारी से बाबा घाट और छतुरिहा घाट पहुंचे। जहां गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस तू जल्दी आना के उद्घोष के साथ गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन किया।

वहीं सुरक्षा के मद्देनजर नगर निगम अमला, होमगार्ड के गोताखोर व एसडीआरएफ के जवान तैनात दिखे। घाटों में बैरिकेड्स के साथ एसडीआरएफ और होमगार्ड के 42 लोगों को​ विसर्जन स्थल पर लगाया गया था। जो बाबा घाट, छतुरिहा घाट के साथ पुष्पराज नगर घाट, निपनिया घाट में तैनात रहेंगे। इनकी दो पालियों में ड्यूटी लगाई गई है।

सुबह 9 से रात 11 बजे तक लगाई गई ड्यूटी
निगमायुक्त मृणाल मीणा ने बताया कि गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए शहर के दोनों घाटों में दो शिफ्ट में साफ सफाई के लिए नगर निगम के कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। बाबा घाट और छतुरिहा घाट में सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक पहली शिफ्ट तो शाम 4 बजे से रात 11 बजे तक दूसरी शिफ्ट में 9-9 लोग तैनात किए गए हैं। ये कर्मचारी 19 और 20 सितंबर को ड्यूटी करेंगे।

चल समारोह से पहले गणेश भक्त।
चल समारोह से पहले गणेश भक्त।

कार्यपालिक दंडाधिकारी तैनात
गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन स्थल पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए कार्यपालिक दंडाधिकारी तैनात किए गए हैं। एसडीएम शैलेन्द्र सिंह एवं डिप्टी कलेक्टर राहुल नायक रीवा शहरी क्षेत्र के संपूर्ण प्रभारी होंगे। वहीं तहसीलदार आरपी त्रिपाठी को व्यंकट चौराहा से गणेश विसर्जन स्थल बाबा घाट सहित बड़ी पुल के पास घोघर तक, नायब तहसीलदार यतीश शुक्ला को जिला अस्पताल से गणेश विसर्जन स्थल छतुरिहा घाट बिछिया, रत्नराशि पाण्डेय को एसके स्कूल से गणे​श विसर्जन स्थल निपनिया पुल और निवेदिता त्रिपाठी को गल्ला मंडी से हास्पिटल चौराहा और घोड़ा चौराहा तक की व्यवस्था के लिए तैनात किया गया है।

चल समारोह निकालकर किया गणेश विसर्जन
शहर के कई मोहल्लों में युवाओं की टोली ने बैंड बाजों की धुन के साथ अगले साल जल्द आने की कामना करते हुए बप्पा को विदाई दी। साथ ही कई जगहों पर गणेश यात्रा निकालकर प्रतिमाओं का विसर्जन किया। बता दें कि दस दिनी त्योहार का समापन अनंत चतुर्दर्शी के दिन से होता है। इस दिन भक्त अपने भगवान गणेश को घरों से विदाई देते है।

डीजे की धुन में नाचे भक्त
मनगवां कस्बे में बप्पा की विदाई डीजे के धुन में नाचकर दी गई। यहां गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन मढुलियन नदी, पकड़िया, सेंगरी नदी में किया गया। वहीं मनगवां बस स्टैंड और बस्ती में एक दर्जन से ज्यादा स्थानों पर गणेश प्रतिमा रखी गई थी। कई जगह बप्पा के भक्तों ने मिट्टी का गणेश बनाकर अपने घरों में स्थापना की थी।

खबरें और भी हैं...