पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • So Far 326 Cases Of Dengue In Ratlam District, 115 Children Are Also In The Grip Of Dengue, 3 Children Died Due To Dengue In The Last 1 Week

रतलाम में डेंगू का कहर:रतलाम जिले में अब तक डेंगू के 326 मामले , 115 बच्चे भी डेंगू की चपेट में, बीते 1 हफ्ते में डेंगू से 3 बच्चों ने तोड़ा दम

रतलाम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रतलाम जिले में डेंगू की रफ्तार बेकाबू हो रही है। सोमवार को रतलाम में 6 डेंगू के मरीज सामने आए हैं। जिले में अब तक 326 डेंगू के मरीज सामने आ चुके हैं, वहीं 115 बच्चे भी डेंगू से पीड़ित हुए हैं । रतलाम में बीते 1 हफ्ते में एंटीजन टेस्ट पॉजिटिव पाए गए। 11 से 14 वर्ष की उम्र के 3 बच्चों की डेंगू से मौत भी हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुकाबले रतलाम के शासकीय और प्राइवेट अस्पतालों में डेंगू के मरीजों की दोगुनी संख्या दिखाई दे रही है, जहां लगभग सभी अस्पतालों में बेड फुल होना बताया जा रहा है।

जिले में डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार प्रभावित क्षेत्रों में डोर टू डोर सर्वे कर संदिग्ध डेंगू के मरीजों की पहचान में जुटी हुई है। वहीं डेंगू पर प्रहार अभियान के अंतर्गत लोगों में जागरूकता कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है ।

डेंगू की चपेट में 115 बच्चे

रतलाम जिले के सेमलिया गांव में 12 वर्षीय हरिओम सोलंकी, नामली के स्टेशन रोड निवासी 14 वर्षीय काजल सोलंकी और रावटी निवासी 15 वर्षीय नमन ग्वालियरी की मौत डेंगू की वजह से हो चुकी है। इन तीनों बच्चों कि डेंगू एंटीजन टेस्ट पॉजिटिव आए थे। हालांकि स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों में अब तक डेंगू से एक भी मौत की पुष्टि नहीं की गई है।

जिला मलेरिया अधिकारी भी डेंगू की चपेट में

रतलाम जिले के जिला मलेरिया अधिकारी डॉ प्रमोद प्रजापति को भी डेंगू के लक्षण दिखाई देने के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया है। डॉक्टर प्रजापति को तेज बुखार और शरीर पर चकत्ते दिखने पर उनका एलाइजा टेस्ट करवाया गया है । जिसके टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिला मलेरिया अधिकारी ने बताया कि डेंगू के पॉजिटिव केस आने पर प्रभावित क्षेत्रों में सर्वे करने जाते थे। इसी दौरान डेंगू के चपेट में आ गए।

सितंबर के 20 दिनों में ही आ गए 126 डेंगू के मामले

रतलाम जिले में जुलाई और अगस्त के महीने के दौरान 200 से अधिक डेंगू के मरीज मिले थे। जिसके बाद सितंबर के 20 दिनों में ही 126 डेंगू के मरीज सामने आ चुके हैं। वहीं, डेंगू के मरीजों की वास्तविक संख्या का आकलन जिला अस्पताल और प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या के आधार पर लगाया जा सकता है। अस्पतालों में ऐसे कितने ही मरीज भर्ती हैं जिनका डेंगू एलाइजा टेस्ट निगेटिव आया है । लेकिन इन मरीजों का ब्लड प्लेटलेट्स कम होने और डेंगू जैसे ही लक्षणों का उपचार चल रहा है । स्वास्थ विभाग के सर्वे के दौरान गांव और शहर में बड़ी संख्या में वाटर टैंकों में मच्छर के लार्वा मिले हैं। ग्रामीण क्षेत्र के अलावा शहरी क्षेत्र में भी डेंगू की रोकथाम के लिए नगर निगम द्वारा मलेरिया विभाग के साथ मिलकर लार्वा सर्च और चालानी कार्रवाई का अभियान चलाया जा रहा है।

बहरहाल डेंगू और मलेरिया की रोकथाम के लिए विभाग द्वारा जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। स्वास्थ विभाग और नगर निगम की टीमें रतलाम शहर और प्रभावित प्रभावित क्षेत्रों में जाकर जलजमाव के स्थानों पर मच्छरों के लार्वा नष्ट करने और बारिश का पानी इकट्ठा नहीं होने देने के निर्देश लोगों को दे रही हैै।