पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59015.89-0.21 %
  • NIFTY17585.15-0.25 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46178-0.54 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61067-1.56 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Ratlam Police Activated After Poisonous Liquor Scandal In Mandsaur, 64 Cases Of Illegal Liquor Registered In 18 Police Stations Of The District

अवैध शराब मामले में कार्रवाई:मंदसौर में जहरीली शराब कांड के बाद सक्रिय हुई रतलाम पुलिस, जिले के 18 पुलिस थानों में अवैध शराब के 64 प्रकरण दर्ज

रतलाम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मंदसौर जिले के खकराई और पिपलिया मंडी में जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद रतलाम पुलिस और आबकारी विभाग हरकत में आए है। रतलाम जिले के 18 पुलिस थानों पर अवैध शराब की बिक्री और परिवहन के 64 प्रकरण दर्ज किए गए हैं। वही कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम के सख्त निर्देशों के बाद आबकारी विभाग ने भी तीन अलग-अलग स्थानों पर दबिश देकर 34 हजार रुपए की अवैध शराब जब्त की है। गौरतलब है कि रतलाम जिले के कई क्षेत्रों में अवैध शराब बिक्री की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने सहायक जिला आबकारी अधिकारी को नोटिस जारी किया था। जिसके बाद मंदसौर में अवैध जहरीली शराब पीने से हुई मौतों के बाद रतलाम के विभिन्न थाना क्षेत्रों और आबकारी विभाग की कार्रवाई देखने को मिल रही है।

दरअसल रतलाम में भी मंदसौर जिले की तरह ही बड़े पैमाने पर अवैध शराब बेचने का कारोबार ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी से फल-फूल रहा है। जिसकी शिकायतें मिलने के बाद रतलाम कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने के लिए आबकारी विभाग के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए थे । वही पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने सभी सभी थाना प्रभारियों को अवैध शराब के मामलों में सख्ती से कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। वहीं अब मंदसौर में हुए जहरीली शराब कांड के बाद अवैध शराब की बिक्री और परिवहन पर रतलाम पुलिस की कार्रवाई देखने को मिली है जिसमें जिले के 18 पुलिस थानों में 64 प्रकरण दर्ज किए गए हैं। हालांकि पुलिस को अवैध शराब के मामले में बड़ी सफलता नहीं मिल सकी है। कलेक्टर के सख्त निर्देशों के बाद आबकारी विभाग ने जिले में तीन स्थानों पर दबिश देकर करीब 34 हजार रुपए मूल्य की अवैध शराब जप्त की है।

बहरहाल अवैध शराब के मामलों में पुलिस और आबकारी विभाग की कार्रवाई जरूर शुरू हुई है लेकिन जिले में अवैध शराब माफिया पर बड़ी कार्रवाई अब तक नहीं हुई है।