पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57696.46-1.31 %
  • NIFTY17196.7-1.18 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47361-0.07 %
  • SILVER(MCX 1 KG)606850.05 %

मूर्ति विसर्जन के दौरान दर्दनाक हादसा:रतलाम के आलोट में डूबते बेटे को बचाने में पिता की मौत,शिप्रा नदी पर मूर्ति विसर्जन के दौरान हादसा

रतलाम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रतलाम के आलोट में मूर्ति विसर्जन के दौरान एक दर्दनाक हादसे में 35 वार्षिक व्यक्ति की मौत हो गई। हादसे का दुखद पहलू यह है कि अपने दोनों बेटों की आंखों के सामने ही पिता पानी में डूब गए। शिप्रा नदी के किनारे मूर्ति विसर्जन के बाद आलोट निवासी पप्पू सोनी अपने दोनों बेटों वात्सल्य 12 वर्ष और तनवेश 8 वर्ष के साथ नदी के किनारे पर हाथ मुंह धो रहे थे ।तभी बड़े बेटे वात्सल्य का पेर फिसलने से वह पानी में गिर गया ।पानी में डूब रहे बेटे को बचाने में आलोट निवासी पप्पू सोनी पानी में डूब गये। घटना आज शाम की है। जहां पुलिस और स्थानीय लोग पानी में डूबे व्यक्ति की तलाश में जुटे हुए हैं।

पानी में डूबे पप्पू सोनी
पानी में डूबे पप्पू सोनी

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सोनी परिवार के कुछ लोग मूर्ति विसर्जन के बाद नदी के किनारे पर हाथ-मुंह धो रहे थे । तभी बेटा वात्सल्य अचानक गहरे पानी में चला गया जिसे बचाने के लिए पिता भी पानी में कूद गया। पिता ने अपने बेटे को तो पानी में डूबने से बचा लिया लेकिन गहरे पानी में वह स्वयं डूब गया। दर्दनाक हादसे का शिकार हुए आलोट निवासी पप्पू सोनी है। जो अपने बेटे के साथ दुर्गा माता के विसर्जन के लिए शिप्रा नदी पर गए थे। जहां अचानक यह हादसा हो गया। प्रशासन द्वारा विसर्जन की व्यवस्था से अलग जाकर यह लोग नदी के किनारे पहुंच गए थे। जहां हादसा होने पर उन्हें तत्काल मदद नहीं मिल सकी।

घटना की सूचना मिलने पर आलोट थाना पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। लेकिन पानी में डूबे पप्पू सोनी का कोई पता नहीं चल सका है।