पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Mandsaur
  • The Smuggler Was Injured In The Vaishno Devi Accident, When The Police Gathered Information, The Permanent Warranty Came Out

सहायता राशि लेने पहुंचा था, कलेक्टर ने पहुंचा दिया जेल:वैष्णो देवी हादसे में घायल हुआ था तस्कर, पुलिस ने जानकारी जुटाई तो निकला स्थाई वारंटी

मंदसौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी भंवर लाल पाटीदार - Money Bhaskar
आरोपी भंवर लाल पाटीदार

मंदसौर कलेक्टर गौतम सिंह के पास गुरुवार को कलेक्ट्रेट में तस्करी के मामले में फरार चल रहा स्थाई वारंटी मुआवजा राशि लेने पहुंच गया। कलेक्टर गौतम सिंह को आरोपी की पूरी जानकारी थी। उन्हेांने तत्काल पुलिस को फोन किया और आरोपी को गिरफ्तार करवाया। आरोपी को आज न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

1 जनवरी 2022 को वैष्णो देवी में हुई भगदड़ में मंदसौर जिले के सीतामऊ थाना क्षेत्र का भंवरलाल पाटीदार घायल हो गया था। मंदसौर जिला प्रशासन ने जब भंवर लाल की जानकारी जुटाई तो पता चला की 6 मई 2012 को सीतामऊ पुलिस ने भंवर लाल को उसके दोस्तों के साथ 15 क्विंटल डोडा चूरा और 10 किलो अफीम के साथ पकड़ा था। इस मामले में भंवरलाल पाटीदार स्थाई वारंटी है।

जमानत पर था बाहर

सीतामऊ थाना प्रभारी दिनेश प्रजापति ने बताया कि 15 क्विंटल डोडा चूरा और 10 किलो अफीम के मामले में आरोपी भंवरलाल पाटीदार को गिरफ्तार कर लिया था। उसके बाद इसको जमानत मिल गई थी। आरोपी भंवरलाल ने न्यायालय में 20 अक्टूबर 2021 से पेशी पर जाना बंद कर दिया था। जिसके बाद यह स्थाई वारंटी हो गया था। भंवरलाल को लगातार पुलिस ढूंढ रही थी। जब भंवरलाल कलेक्टर गौतम सिंह के पास सहायता राशि लेने पहुंचा तो उन्होंने पुलिस को सूचना देकर गिरफ्तार करने का आदेश दिया।

1 जनवरी को वैष्णो देवी में हुई भगदड़ में हुआ था घायल

भंवरलाल पाटीदार 13 जनवरी को कलेक्टर गौतम सिंह के पास 50 हजार की सहायता राशि लेने पहुंचा था। कलेक्टर के पास पहुंचकर उसने बताया कि वैष्णादेवी में हुई भगदड़ में वह घायल हो गया था और प्रधानमंत्री ने 50 हजार रुपए मुआवजे की घोषणा की है। इसी मुआवजे को मैं लेने आया हूं। इसके बाद कलेक्टर ने तत्काल एसपी सुनील पांडे को फोन किया और गिरफ्तार करने का आदेश दिया। जिसके बाद पुलिस अधीक्षक ने तत्काल पुलिसकर्मियों को कलेक्ट्रेट भेज आरोपी को गिरफ्तार किया।

  • आरोपी वैष्णो देवी में हुई भगदड़ में घायल हुआ था। इसकी जानकारी ली तो उस समय सामने आया कि आरोपी एनडीपीएस के मामले में स्थाई वारंटी है। आरोपी मुआवजा राशि लेने के लिए मेरे पास आया था। मैंने पुलिस अधीक्षक से बात की और आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करवाया। - गौतम सिंह, कलेक्टर