पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59015.89-0.21 %
  • NIFTY17585.15-0.25 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46178-0.54 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61067-1.56 %

पशुओं को बीमारी:बीमार पशुओं का किया नि:शुल्क इलाज, डॉक्टर ने पशुपालकों को टीकाकरण की दी सलाह

ढोढर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बारिश में पशुओं के संक्रामक रोग अत्यंत गम्भीर होते हैं जिनका इलाज जटिल या खर्चीला होता है। बीमारी से कई बार पशुओं की मौत भी हो जाती है। इससे पशुपालक को नुकसान होता है। मानसून से पहले पशुओं का टीकाकरण ही ऐसा तरीका है, जिससे पशुपालक अपने पशुधन को गंभीर जानलेवा बीमारी से बचा सकते हैं।

यह बात पशु चिकित्सक डॉ. योगेश गुप्ता ने गुरुवार को बिचपुरी और सामरसा में आयोजित पशु चिकित्सा शिविर में पशुपालकों से कही। उन्होंने बताया कि गर्भवती एवं दुधारू दोनों ही प्रकार के पशुओं के लिए टीका पूरी तरह सुरक्षित होता है। टीका लगाने से गर्भित पशु का गर्भपात नहीं होता और न ही दुधारू पशु के दूध में कमी आती है। गाय-भैंसों में गलघोंटू, खुरपका, मुंहपका तथा भेड़-बकरियों में पीपीआर, ईटीवी के टीके नियमित लगाए जाते हैं। टीका लगाने पर 7 से 21 दिन में पशु संबंधित बीमारी से रोग प्रतिरोधक हो जाते हैं।

खबरें और भी हैं...